मउ, बनारस में बनने वाली हैंडलूम साडियां अब सूरत में भी

मउ, बनारस में बनने वाली हैंडलूम साडियां अब सूरत में भी

Pradeep Devmani Mishra | Publish: Sep, 03 2018 05:02:03 AM (IST) Surat, Gujarat, India

कॉटन और सिल्क लुक वाली साडिय़ों की बाजार में डिमांड

डाइंग प्रोसेसिंग यूनिटों के जॉबवर्क पर असर

प्रदीप मिश्रा, सूरत
सूरत के कपड़ा उद्यमी ग्राहकों को लुभाने के लिए नए क्रिएशन करते रहते हैं। त्योहारों का सीजन होने के कारण बाजार में साड़ी और ड्रेस मटीरियल्स दोनों में ही डिमांड है, लेकिन पिछले वर्षो की अपेक्षा इस बार कॉटन और सिल्क लुक वाली साडिय़ों की मांग अच्छी है।
कपड़ा व्यापारियों का कहना है कि पारम्परिक ढंग से सूरत में बनने वाली साडिय़ों की अपेक्षा उसमें कुछ नया कर उद्यमी ग्राहकों के समक्ष पेश कर रहे हैं। इन दिनों सूरत के उद्यमियों ने कॉटन ब्लेन्डेड कलर्ड यार्न पर तैयार कॉटन और सिल्क लुक वाली साडिय़ों पर जोर दिया है। इन साडिय़ों का दिखाव पॉलिएस्टर साडिय़ों से हटकर होता है। अन्य राज्यों के व्यापारियों को यह साडिय़ां लुभा रही है। यह साडिय़ां कलर्ड यार्न पर बनी होने के कारण डाइंग प्रोसेसिंग मिल में प्रोसेस नही की जाती है। इन पर चरक पॉलिश्ड किया जाता है। कपड़ा उद्यमियों का कहना है कि कलर्ड यार्न पर बनी साडिय़ों की मांग बढऩे कारण प्रोसेसिंग मिलों के सामने जॉबवर्क की समस्या खड़ी होने लगी है। इन साडिय़ों को बनाने के बाद प्रोसेस करने की आवश्यकता नहीं होती। अब तक जो साडिय़ां तैयार की जाती थी, उनका ग्रे बनाने के बाद डाइड या प्रिन्ट करना पड़ता था। कॉटन लुक के साथ हैंडलूम और लिनेन लुक जैसी साडिय़ों का चलन भी बढ़ा है। पिछले एकाध वर्ष से इनकी बिक्री में क्रमश: बढोतरी हुई है।
साडिय़ों की कीमत २०० रुपए से शुरू

FILE

अब तक कॉटन और सिल्क लुक तथा हैंडलूम वाली साडिय़ां मउ और बनारस में बनती थीं, लेकिन सूरत ने भी यह मुकाम हासिल कर लिया है। सूरत के उद्यमियों ने कॉटन ब्लेन्डेड यार्न से हैंडलूम और कॉटन लुक वाली साडिय़ां तैयार कर दी हैं। इनकी कीमत 200 रुपए से शुरू होती है। पहले इन साडिय़ों के लिए ग्राहकों को दूसरे स्थानों से खरीद करनी पड़ती थी अब सूरत में ही सरलता से साडियां मिल जाती हैं। बाजार में कुल बिकने वाली साडिय़ों में से 25 प्रतिशत हिस्सा इन साडिय़ों का हो गया है।

बाजार में 25 प्रतिशत हिस्सा
पहले जो साडिय़ां बन रही थीं उनकी अपेक्षा अब कॉटन लुक वाली साडिय़ों के लिए बड़े पैमाने पर ऑर्डर मिल रहे हैं। इस कारण भी पहले की साडिय़ों की मांग पर असर पड़ा है। इतना ही नहीं डाइंग प्रोसेसिंग मिल के ऑर्डर भी घट रहे हैं।
नरेन्द्र साबू, व्यापारी

नया बाजार तैयार हुआ
सूरत के उद्यमी हमेशा नया क्रिएशन करते हैं। जिस तरह एम्ब्रॉयडरी आने से कपड़ा उद्योग का विकास हुआ है। उसी तरह इन कपड़ों के कारण भी नया बाजार डवलप हुआ है। बाजार में इन साडिय़ों का व्यापार लगातार बढ़ रहा है।
ब्रजमोहन अग्रवाल, व्यापारी

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned