भारी बारिश ने उधेड़ दी सडक़ें

भारी बारिश ने उधेड़ दी सडक़ें

Sunil Mishra | Publish: Sep, 11 2018 09:26:58 PM (IST) Surat, Gujarat, India


वलसाड शहर में सडक़ों की हालत बेहद खराब
लोग हो रहे परेशान, नहीं खुल रही पालिका की नींद


वलसाड. शहर की सडक़ों की हालत बरसात के बाद से बेहद खराब है। इसके कारण लोगों को हो रही परेशानी के बावजूद नपा प्रशासन कुंभकर्णी निद्रा में है। वलसाड जिले में गत दिनों भारी बरसात होने से शहर की सडक़ों का हाल बुरा है। बेचर रोड, सिटी थाने की ओर जाने वाला मार्ग और धरमपुर ओवरब्रिज के रास्ते की हालत ज्यादा खराब है। बरसात के दिनों में सडक़ के गड्ढों को भरने के लिए डाली गई गिट्टी और पत्थर अब सडक़ पर जहां-तहां बिखरे हैं। किसी गाड़ी के निकलने पर उछलकर अन्य गाडिय़ों पर उड़ते हैं। इससे लोग घायल भी हो रहे हैं। कई गाडिय़ों के कांच भी टूटने की घटनाएं हो चुकी हैं। खराब सडक़ों की मरम्मत न होने से लोगों की परेशानी बढ़ती जा रही है।
जानकारी के अनुसार तिथल रोड, सर्किट हाउस रोड तथा धरमपुर रोड पीडब्ल्यूडी के तहत आता है। विभाग के अधिकारी सडक़ों की मरम्मत कब करेंगे, इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। शहर के ओवरब्रिज पर गत दिनों पीडब्ल्यूडी ने पेवरब्लाक भी डाला था, लेकिन दो माह में ही उखड़ गए। इससे रोजाना जाम की समस्या भी हो रही है।
बरसात के बाद सडक़ों पर पेचिंग शुरू होगी
इस बारे में नपा प्रमुख पंकज अहीर ने बताया कि बरसात के बाद सडक़ों पर पेचिंग शुरू हो जाएगी। जहां ज्यादा खराब हालत है वहां डामर डालकर काम शुरू कर देंगे।



patrika

मुरझा गए प्रधानमंत्री के दौरे पर लगाए गए पेड़
वलसाड. नगरपालिका प्रशासन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दौरे से पूर्व अपनी छवि चमकाने के लिए धरमपुर रोड पर रातों रात पेड़ लगाने में लाखों रुपए खर्च कर दिए। उसके बाद देखभाल नहीं करने से सभी पेड़ मुरझा गए। इससे नपा की किरकिरी हो रही है।
जानकारी के अनुसार 23 अगस्त को प्रधानमंत्री वलसाड जिले के जूजवा में आए थे। प्रधानमंत्री के एक घंटे के कार्यक्रम के दौरान शहर को चकाचक दिखाने में नगर पालिका ने कोई कसर नहीं छोड़ी। नपा ने बेचर रोड से लेकर धरमपुर ओवरब्रिज तक सैकड़ों छोटे-बड़े पेड़ लाकर रखवा दिया। इस पर लाखों रुपए खर्च आया था। वहीं, प्रधानमंत्री के जाने के बाद नपा ने इन पेड़ों की ओर देखा तक नहीं। इससे पेड़ मुरझाने लगे हैं। कई पेड़ों ने तो जमीन पकड़ ली है। पर्यावरण बचाओ के नाम तथा प्रधानमंत्री को खुश करने के लिए लाखों रुपए नपा ने बर्बाद कर दिए। हालांकि जहां पेड़ लगाए गए थे, उस मार्ग से प्रधानमंत्री गुजरे भी नहीं थे।

Ad Block is Banned