राजस्थान में छिपे थे, ऐसे चढे पुलिस के हत्थे

गोरक्षक के अपहरण के आठ आरोपी गिरफ्तार, दो कार में आए थे आठ लोग

By: विनीत शर्मा

Published: 30 Aug 2020, 08:06 PM IST

बारडोली. माणेकपोर गांव की चेकपोस्ट के पास से एक गोरक्षक के अपहरण के मामले में एसओजी टीम ने राजस्थान से सात और कामरेज के नवी पारडी से एक समेत आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

जानकारी के अनुसार गत 27 अगस्त को नवसारी जिला के चिखली की दर्शन सोसाइटी निवासी महावीर हरखचंद जैन तापी जिला में पशुओं से भरा टैम्पो पकडऩे गया था। दोपहर को व्यारा से बारडोली तहसील के माणेकपोर गांव के पास एक व्यक्ति का इंतजार कर रहा था, उसी समय दो कार में आए भरत भरवाड, जगदीश भरवाड, जय उर्फ नागराज समेत आठ लोग उसे जबरन साथ लेकर भाग गए। कार में उसकी पिटाई की और नवसारी के कबिलपोर गांव के पास छोड़ दिया। महावीर ने शुक्रवार को बारडोली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।

एसओजी की टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि अपहरण में शामिल लोग राजस्थान के बाड़मेर जिला के बामनोर गांव भाग गए हैं। पुलिस टीम राजस्थान पहुंची और वहां मौजूद मांगरोल तहसील के पीपोदरा गांव निवासी भरत राहा भदयादरा, कामरेज के उंभेल गांव की साई श्रद्धा टाउनशिप निवासी जय उर्फ नागराज रमेश पटेल, कामरेज तहसील के नवी पारडी निवासी भरत शिवदास वैष्णव, बारडोली के जूना पावर हाउस निवासी जगदीश भरवाड, कामरेज के ननसाड की परिवार सोसाइटी निवासी रसिक छगन वणपरिया, कामरेज की शिव आवास सोसाइटी निवासी जयेश रणछोड़ साटिया और नवी पारडी निवासी रोशन बहादुर सुमरा को गिरफ्तार कर लिया। मांगरोल के झांखरडा और मूल राजस्थान के बामनोर निवासी रफीक इदा छचर को कामरेज के नवी पारडी से गिरफ्तार किया।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned