भरुच जिले की तीन तहसील के 40 गांव में हाईअलर्ट

भरुच जिले की तीन तहसील के 40 गांव में हाईअलर्ट

Dinesh O.Bhardwaj | Updated: 12 Jun 2019, 10:06:36 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

जरूरत पडऩे पर लोगों का स्थलांतरण

भरुच. अबरसागर में उठे वायु तुफान को लेकर जिला प्रशासन की ओर से पूरी तैयारी कर ली गई है। तुफान के जिले में ज्यादा असरकारी नहीं रहने की संभावना के बावजूद प्रशासन ने किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए तैयारियां की है। अधिकारी व कर्मचारी इस दौरान जिला मुख्यालय व तहसील मुख्यालय नहीं छोड़ सकेंगे।
जिला प्रशासन के अनुसार जरूरत पडऩे पर ही लोगों का स्थलांतरण कराया जाएगा। जिले की तीन तहसीलों के चालीस गांवों को फिलहाल एलर्ट कर दिया है। मछुआरों को समुद्र किनारे नही जाने की सलाह दी गई है। भरुच जिले में के सभी पांच समुद्र तट की जेटियों को भी एलर्ट कर दिया है। दहेज बंदरगाह पर दो नंबर का सिग्नल लगाया गया है। प्रशासन की ओर से पूरे घटनाक्रम पर कड़ी नजर रखी जा रही है। वायु चक्रवात के कारण भारतीय मौसम विभाग की ओर से भरुच जिले में गुरुवार को भारी से अति भारी बरसात की आशंका जताई है। उधर, जिले के तीन हजार से ज्यादा मछुआरे घर में सुरक्षित हैं। इनदिनों मछली पकडऩे का सीजन नही होने से ज्यादा मछुआरे समुद्र के आसपास ही मछली पकड़ते है। भाड़भूत में 300 से ज्यादा नौकाए किनारे खड़ी है। वायु तुफान से नर्मदा नदी में भी हलचल दिखने लगी है। बुधवार शाम भरुच शहर व जिले में बूंदाबांदी के समाचार है।


एक घंटे में आ जाएगी एनडीआरएफ टीम


जिला कलेक्टर रविकुमार अरोरा ने कहा कि भरुच जिले में समुद्र किनारे वायु चक्रवात का असर नहीं है मगर भरुच जिला प्रशासन ने सुरक्षा के सभी कदम उठाए हैं। समुद्र के निकट एक से 14 किमी की दूरी पर तीनों तहसीलों के 40 गांवों में प्रशासन की ओर से राउंड द क्लॉक नजर रखी जा रही है। जरूरत पडऩे पर एक घंटे में नेशनल डिजास्टर रिस्पोंस फोर्स सूरत से भरुच आ जाएगी। उधर, समुद्र किनारे बसे गांवों में तुफान के दौरान बिजली आपूर्ति व्यवस्था ठप नही हो इसके लिए विद्युत विभाग सक्रिय है। दक्षिण गुजरात बिजली कंपनी भरुच सर्कल के अधीक्षक अभियंता एनजी पटेल ने कहा कि समुद्र किनारे 40 गांवों के सबस्टेशन पर स्टाफ व टीम तैनात कर दी गई है।


59 आश्रयस्थल व 300 बसें स्टेंडबाय


जिले की जंबूसर, वागरा व हांसोट तहसील के समुद्र किनारे के 40 गांवों के लोगों को सावधान रहने के निर्देश दिए है। बुधवार रात से हवा की गति बढऩे व तेज बरसात की स्थिति में लोगों को स्थलांतरित करने की नौबत आने पर प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। आशंकित गांवों में लेखपाल व रेस्क्यू टीम तैनात की गई है। भरुच डिवीजन के 800 बसचालक व परिचालकों का अवकाश रद्द करने के अलावा स्थलांतरण की जरूरत पडऩे पर 300 बसों को स्टेंडबाय किया है। तीन तहसीलों से स्थलांतरित लोगों के लिए 59 आश्रयस्थल भी तैयार है। इसमें स्कूल व सामुदायिक केन्द्र शामिल है।


वायु तुफान से प्रभाव की आशंका वाली तहसील


तहसील गांव जनसंख्या


वागरा 13 35411
जंबूसर 20 50698
हांसोट 07 15818

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned