मरीज से बलात्कार का मामला : डॉ.दोषी के खिलाफ पुलिस ने कसा शिकंजा की

मरीज से बलात्कार का मामला : डॉ.दोषी के खिलाफ पुलिस ने कसा शिकंजा की

Sandip Kumar N Pateel | Publish: Sep, 08 2018 10:37:11 PM (IST) Surat, Gujarat, India

डिप्टी पुलिस आयुक्त ने किया दावा, गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पास पर्याप्त सबूत

 

सूरत. नानपुरा क्षेत्र में चेकअप के दौरान महिला से बलात्कार करने के मामले में चार दिन बाद भी डॉ. प्रफुल्ल दोषी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है और पुलिस पर दबाव बढ़ता जा रहा है। ऐसे में शनिवार को डिप्टी पुलिस आयुक्त डी.एन.पटेल ने दावा किया कि डॉ.दोषी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पर्याप्त सबूत जुटा लिए हैं और उसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास भी तेज कर दिए हंै। हालांकि अब तक उसका पता नहीं चल पाया है।


उन्होंने बताया कि पूरे मामले की जांच गंभीरता से की जा रही है। मामला दर्ज होने के बाद से अभियुक्त फरार हो गया है। ऐसे में उसके संभवित ठिकानों पर पुलिस जांच कर रही है। मुंबई की ओर भागने की आशंका को देखते हुए एक टीम मुंबई भी रवाना की गई है। इसके अलावा एसओजी, पीसीबी और क्राइम ब्रांच की टीम भी खोज में जुटी हुई हैं। डॉ.दोषी के करीबी दोस्त, रिश्तेदारों से भी पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। हालांकि अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।


गौरतलब है कि नानपुरा क्षेत्र में निजी अस्पताल के संचालक डॉ.दोषी पर कतारगाम की एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाय है। आरोप है कि चेकअप के दौरान डॉ. दोषी ने उसे जान से मारने की धमकी दी और बलात्कार किया। अठवा पुलिस मामले की जांच कर रही है।


मदद करने वालों के खिलाफ भी होगी कार्रवाई


पुलिस ने बताया कि फरार अभियुक्त डॉ. दोषी के साथ यदि कोई संपर्क में है और उसे बचाने के लिए मदद कर रहा हो तो पुलिस उस व्यक्ति के खिलाफ भी आइपीसी की धारा 212 के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

 

जांच के दौरान 1.57 लाख का जुर्माना वसूला


सूरत. सूरत से नंदुरबार तक की ट्रेनों में और प्लेटफार्म पर शनिवार को जांच के दौरान बिना टिकट यात्रा करने समेत अन्य कारणों को लेकर यात्रियों से 1.57 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया।


मुंबई के सीनियर डीसीएम आरतीसिंह परिहार के आदेश पर शनिवार को टीसी की 68 सदस्यीय आठ अलग-अलग टीमों ने सूरत से नंदुरबार तक ट्रेनों में तथा प्लेटफार्म पर जांच की गई। इस दौरान बिना टिकट यात्रा कर रहे 176, जनरल टिकट लेकर स्लीपर कोच में यात्रा कर रहे 453 और अन बुक लगेज के 71, लगेज कोच में यात्रा कर रहे 700 लोग पकड़े गए। इनसे 1,42,140 रुपए किराया, 11,880 अनबुक लगेज का किराया और 1,57,250 रुपए जुर्माना मिलाकर 3,11,270 रुपए वसूले गए।

Ad Block is Banned