युवक की बातों में उलझी पुलिस अब तक सुलझा रही पेंच

बेबसी- हत्या के मामले में आखिर कैसे गिरफ्तार करे डबल मर्डर के आरोपी को! बाद में पुलिस ने युवक को जाहेरनामा भंग जैसे मामले में गिरफ्तार किया

By: विनीत शर्मा

Updated: 16 May 2020, 06:41 PM IST

बारडोली. कंट्रोल रूम में आए एक फोन पर चकरघिन्नी बनी पुलिस अब तक यह नहीं समझ पाई कि आखिर इस शरारत के पीछे की असल वजह क्या है। डबल मर्डर के बाद पुलिस को फोन कर सरेंडर का प्रस्ताव देने वाले युवक को पुलिस ने बाद में जाहेरनामा भंग जैसे मामले में गिरफ्तार किया है। मामला ही कुछ ऐसा है कि इसे बताते हुए पुलिस को समझ नहीं आ रहा कि इस पर हंसा जाए या रोया।

ग्रामीण पुलिस के साथ जो बीती उसे सिलसिलेवार जानकर अजय देवगन की फिल्म सिंघम की यादें एक बार लोगों के जेहन में फिर ताजा हो जाएंगी। दरअसल पुलिस कंट्रोल रूम में एक फोन आता है, जिसमें बताया जाता है कि एक व्यक्ति राजकोट के पदधारी तहसील में उकेला गांव निवासी विमल मूलजी कवाठिया ने डबल मर्डर किया है और अब वह सरेंडर करना चाहता है। इस सूचना पर पुलिस टीम युवक की बताई लोकेशन कामरेज हाइवे टोलनाका के पास पहुंच गई। पुलिस टीम के पहुंचते ही विमल उसके पास आया और अपनी पहचान देते हुए बताया कि उसने ही कंट्रोल रूम में फोन किया था।

पूछताछ में विमल ने पुलिस को जो बताया वह पुलिस की समझ में कम आया और जितना समझने की कोशिश की उसमें उतना ही ज्यादा उलझी। विमल ने यहां पुलिस को बताया कि उसने किसी का खून नहीं किया है, लेकिन दो-तीन दिन पहले अपने पिता मूलजी सवदस भाई के साथ झगड़ा होने पर चाकू से हमला कर दिया था। इसकी तफ्तीश के लिए जब पुलिस ने राजकोट शहर और ग्रामीण पुलिस से बातचीत की तो पता चला कि ऐसा कोई वाकया वहां हुआ ही नहीं। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि राजकोट से सूरत आने का कोई मंजूरी पत्र भी उसके पास नहीं है। इसके बाद पुलिस ने डबल मर्डर के इस कथित आरोपी को पुलिस कंट्रोल में गलत जानकारी देने और जाहेरनामा भंग करने का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। अब पुलिस यह समझने की कोशिश कर रही है कि आखिर किस मकसद से युवक ने यह कहानी रची।

Show More
विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned