FRAUD: क्या फर्जी दस्तावजों से खरीदी जमीन पर बनी है पूरी सोसायटी ?

FRAUD: क्या फर्जी दस्तावजों से खरीदी जमीन पर बनी है पूरी सोसायटी ?
FRAUD: क्या फर्जी दस्तावजों से खरीदी जमीन पर बनी है पूरी सोसायटी ?

Dinesh M.Trivedi | Publish: Sep, 18 2019 01:32:58 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

surat news :
- सूरत के सारोली स्थित हाइराइज मॉडल टाउन रेजिडेंसी का मामला
- ट्रस्ट के तत्कालिन प्रमुख समेत एक दर्जन के खिलाफ मामला दर्ज

सूरत. सारोली स्थित लेऊवा पाटीदार समाज ट्रस्ट की जमीन फर्जी दस्तावेजों के आधार पर बेचने तथा उस पर अपार्टमेंट के निर्माण करने के आरोप में पूणागाम पुलिस ने ट्रस्ट के तत्कालिन प्रमुख समेत एक दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक सिटीलाइट मुरलीधर अपार्टमेंट निवासी ठाकोर पटेल, घोड़दौडऱोड प्रतिष्ठा आवास निवासी रवि खंड़ेलवाल, नीता खंडेलवाल, विश्वनाथ खंडेलवाल, मगोब एमजे कॉम्प्लेक्स निवासी सतीष सोलंकी, परवत पाटिया मनुस्मृति निवासी बीपीन देसाई, मनीष जैन, जयंती पटेल, सारोली निवासी मोहन पटेल ,भागाभाई पटेल व सुरेन्द्र सेलपाड़ ने नियोजित साजिश के तहत जालसाजी व धोखाधड़ी की। उन्होंने एक दुसरे की मिली भगत से सारोली स्थित लेऊवा पाटीदार समाज ट्रस्ट ४ हजार ४०० वर्ग मीटर जमीन नियमों के विपरीत फर्जी दस्तावेज बना कर बेच दी। ट्रस्ट के तत्कालिन प्रमुख ठाकोर पटेल ने १९९८ से २०१२ के दौरान जमीन के मूल मालिकों वारिस बता कर फर्जी पॉवर ऑफ अटर्नी तैयार करवाई। उनके आधार पर जमीन बेच दी। खंडेलवाल परिवार ने उक्त जमीन पर मॉडल टाउन रेजिडेंसी के नाम से हाइराइज अपार्टमेंट का निर्माण करवाया और फ्लैट होल्डरों को फ्लैट बेच दिए। इस संबंध में सारोली पटेल फलिया निवासी रंजन पत्नी शशीकांत पटेल की प्राथमिकी के आधार पर सोमवार शाम पुलिस ने मामला दर्ज कर ठाकोर पटेल को गिरफ्तार किया है।

जानिए तक्षशिला अग्निकांड के आरोपी दमकल अधिकारी के यहां कितना काला धन?

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned