जयंती भानुशाली बलात्कार मामला : पूर्व पति ने चरित्र पर उंगली उठाई तो पीडि़ता ने कहा - दहेज के लिए प्रताडि़त करता था

प्रेस कॉन्फ्रेंस में रो पड़ी युवती, हनी ट्रेप के आरोप को ठुकराया

By: Sandip Kumar N Pateel

Published: 24 Jul 2018, 09:29 PM IST

सूरत. प्रदेश भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष जयंती भानुशाली के खिलाफ बलात्कार के मामले को लेकर मंगलवार को आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। सुबह अहमदाबाद में युवती के पूर्व पति ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में युवती पर कई गंभीर आरोप लगाने के साथ उसके चरित्र के कारण तलाक लेने की बात कही तो शाम को सूरत में युवती ने मीडिया के सामने आकर उस पर दहेज प्रताडऩा का आरोप लगाया। साथ ही कहा कि इसी कारण वह उससे अलग हो गई थी।


युवती के पूर्व पति ने अहमदाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वर्ष 2015 में उसकी शादी युवती से हुई थी, लेकिन डेढ़ महीने में उनका तलाक हो गया। उसने आरोप लगाया कि शादी से पहले युवती के कई मर्दों से अवैध संबंध थे, जो शादी के बाद भी जारी रहे। इसका पता लगने पर उसने तलाक दे दिया। उसने यह आरोप भी लगाया कि युवती अब तक 70 से 80 लोगों के साथ अवैध संबंध बनाकर उन्हें ब्लैकमेल कर चुकी है। वह हनी ट्रेप गिरोह की सदस्य है। जयंती भानुशाली भी उसे रुपए देता था। पूर्व पति ने कहा कि तलाक के बाद भी युवती के कहने पर छबील पटेल नाम का राजनीतिक व्यक्ति उसे फोन पर धमकी देता था।


उधर, भानुशाली के समधी ने भी युवती पर हनी ट्रेप और ब्लैकमेल का आरोप लगाया। इन आरोपों के बीच शाम को युवती अपनी अधिवक्ता के साथ मीडिया के सामने आई। उसने पति के आरोपों को सिरे से नकार दिया। उसने कहा कि भानुशाली ने उसे फैशन डिजाइन इंस्टीट्यूट में दाखिला दिलाने का भरोसा देकर फंसाया और बलात्कार किया। इसके बाद ब्लैकमेल कर लगातार यौन शोषण करता रहा। तलाक को लेकर उसने कहा कि वह मध्यम परिवार से है और पूर्व पति अमीर है। शादी के बाद उसे दहेज के लिए प्रताडि़त किया जा रहा था। उसके परिवार की आर्थिक दशा ऐसी नहीं थी कि दहेज की मांग पूरी कर सके, इसलिए तलाक दे दिया।


पुलिस पर ढिलाई का आरोप


युवती ने पुलिस पर जांच में ढिलाई बरतने का आरोप लगाया। उसने कहा कि ब्लैकमेल कर बलात्कार किया गया,इसके बावजूद अभियुक्त खुलेआम घूम रहा है। पुलिस अभियुक्त को गिरफ्तार करने के बजाए उसे ही परेशान कर रही है। पुलिस को सारी हकीकत बताने के साथ वीडियो क्लिप भी दे दी गई है, इसके बावजूद पुलिस अभियुक्त को गिरफ्तार नहीं कर रही है। उसने कहा कि उसके साथ इतना घिनौना कृत्य किया गया। न्याय की उम्मीद के साथ वह पुलिस के पास पहुंची, लेकिन उसे न्याय मिलता नहीं दिख रहा है। यह कहते हुए वह फूट-फूट कर रोने लगी और प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़ कर चली गई।

Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned