काकरापार और डोसवाड़ा ओवरफ्लो, 12 गांवों को अलर्ट

भारी बारिश से सूरत जिला पानी-पानी, महुवा तहसील के कई गांवों का संपर्क कटा, तापी जिला में 30 मार्गों पर यातायात बंद

By: विनीत शर्मा

Published: 13 Aug 2020, 08:57 PM IST

बारडोली. सूरत और तापी जिले में हुई भारी बारिश से जनजीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है। काकरापार और डोसवाड़ा डैम ओवरफ्लो हो गए हैं। डोसवाड़ा डैम के प्रभावक्षेत्र वाले 12 गांवों को अलर्ट जारी कर दिया गया है। महुवा तहसील के कई गांवों का संपर्क कट गया तो तापी जिले में 30 मार्गों पर यातायात बंद कर दिया गया है।

मिंढोला नदी पर बना तापी जिले के सोनगढ़ स्थित डोसवाड़ा डैम ओवरफलो हो गया। डैम की भरण क्षमता 123.44 मीटर (405 फीट) है और 58 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। इससे डैम पर 2.50 सेमी की चादर चल रही है। लगातार बारिश और बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए तापी जिला सिंचाई विभाग ने डैम के निचले क्षेत्र में बसे सोनगढ़ और व्यारा तहसील के 12 गांवों को अलर्ट जारी कर दिया है। सोनगढ़ तहसील के कुमकुवा, खांजर, डोसवाड़ा, खरसी, कनाला, चोरवाड और खडका चकली और व्यारा तहसील के वाघझरी, चिखली, मूसा, कानपुरा और पानवाडी गांव में लोगों को सावधान रहने के लिए कहा गया है। उधर, मांडवी तहसील में तापी नदी पर बना काकरापार डैम भी दो दिनों से ओवरफ्लो हो रहा है।

बारडोली शहर समेत जिलेभर में बीते चार दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण जन जीवन प्रभावित हुआ है। तेज बारिश के कारण तहसील और जिले से गुजर रही नदियां उफान पर हैं। मिंढोला नदी में पानी बढऩे से रामजी मंदिर के निकट नदी पर बना लो लेवल ब्रिज यातायात के लिए बंद कर दिया गया। बारडोली तहसील में अकोटी, मांगरोलिया, वराड, रायम, ईशनपोर, मोता, उतारा, वधावा, करचका, मोटी फलोद समेत कई गांवों में बारिश का असर दिखा। खाड़ी फलिया के आसपास पानी आ जाने से अकोटी गांव का संपर्क कट गया। चिक खाड़ी पर उतारा गांव के पास बना पुल डूबने से उतारा, वधावा और करचका गांवों का संपर्क बारडोली से कट गया। वांकानेर गांव के पास खाड़ी पुल पर पानी आने से पारडी गांव का संपर्क कट गया। वढवाणीया गांव के चौधरी फलिया का गांव से संपर्क टूट गया। नसूरा गांव में पानी आने से लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। कई घरों में पानी घुस गया है। जानकारी मिलते ही तालुका विकास अधिकारी गोविंद राठवा, उपप्रमुख देवेन्द्र चौधरी समेत अधिकारिओ की टीम मौके पर पहुंची। तहसील के वराड और रायम गांव के पास बारडोली मांडवी राजमार्ग पर यातायात बाधित हुआ। मोटी फलोद गांव में खाड़ी का पानी घुसने से मोटी फलोद-वाघेचा मार्ग पर यातायात बाधित हुआ।

कई गांवों का संपर्क कटा

महुवा तहसील में अम्बिका के बाद ओलण नदी में भी बाढ़ के हालात हैं। ओलण नदी पर बने के लो लेवल कोजवे पर पानी आ जाने से कई गांवों का संपर्क कट गया। हर साल माछीसादड़ा, महुवारिया, संग्रामपुरा, साम्बा, वहेवल समेत अन्य गांवों का संपर्क कट जाता है और लोग जान जोखिम में डालकर रास्ता पार करते हैं। कोजवे की ऊंचाई नहीं बढ़ाने से लोगों में नाराजगी है। भगवानपुरा और सांबा गांव के बीच ओलण नदी पर बना कोजवे, तरकाणी और वाहेवल के बीच कोश नदी पर बना कोजवे और माछीसादड़ा गांव का ओलण नदी पर बना कोजवे भी पानी में डूब जाने से कई गांवों का संपर्क कट गया।

तापी में 30 मार्गों पर यातायात बंद

तापी जिला में लगातार बारिश के कारण तेज बारिश के कारण जगह-जगह छोटे ब्रिज, कोजवे और लो लेवल ब्रिज डूब जाने के बाद कई मार्गों पर यातायात बंद कर दिया गया है। व्यारा में जेसिंगपुरा से उमरवाव रोड, खर्दी एप्रोच रोड, लखाली-चिचबरडी रोड, झांखरी-ढोलीउम्मर रोड, कणजा बेडकुव रोड, उचामाला लिमदडा रोड, झांखरी आश्रम फलिया से चिचबर्डी रोड, जेसिंगपूरा नवापाड़ा रोड, वीरपुर उमरकच्छ रोड, उमरकच्छ एप्रोच रोड को यातायात के लिए बंद किया गया। डोलवण तहसील में हरिपुरा एप्रोच रोड, पलासिया पंचोल, रायगढ़ हलमुंडी अमोनिया रोड, पदमडूंगरी निचाला रोड, धोलका हरिपुरा रोड, धाग्धर बर्डीपाड़ा रोड, पीठादरा बर्डीपाड़ा रोड, डोलवण ढोडियावाड रोड, डोलवणपाटी कणधा रोड पर आवागमन बंद है। सादड़वेल एप्रोच रोड, हिंदला उमरडा रोड, चोरवाड एप्रोच रोड, जामणकुवा टोकरवा रोड, श्रावणीया आमथवा सेलझर रोड, उमरदा निशाल फलिया रोड और वालोड तहसील के पांच देगामा टिचकपुरा रोड, वालोड शेधी फलिया बुटवाड़ा रोड, वालोड जकातनाका टु शेधी फलिया रोड, वालोड उकाई कॉलोनी टु बूटवाड़ा रोड और अंबाच नदी पार फलिया समेत 30 मार्ग बंद किए गए हैं।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned