KNIGHT CURFEW IN SURAT : पहले दिन कहीं सख्ती तो कहीं नरमी

- कोरोना वायरस को रोकने के लिए रात्रि कर्फ्यू के हाल...

KNIGHT CURFEW IN SURAT: The condition of night curfew to prevent corona virus ..

 

By: Dinesh M Trivedi

Published: 22 Nov 2020, 11:15 AM IST

सूरत. रात नौ बजे के बाद विभिन्न स्थानों पर सक्रिय हुई पुलिस का शनिवार को पहले दिन मिला जुला रूप देखने को मिला। कहीं सख्ती बरतती हुई नजर आई तो कहीं पहले दिन पुलिसकर्मी लोगों को समझा कर घर भेजते हुए नजर आए।

रात नौ बजे के बाद आम दिनों के मुकाबले राजमार्ग समेत शहर के सभी मुख्य मार्गो से 90 फीसदी यातायात गायब हो गया। सड़कें भी वीरान दिखी। सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान भी बंद हो गए। जो लोग सडक़ों पर घूमते नजर आए पुलिसकर्मी उन्हें रोक कर पूछताछ में लगे दिखे।

KNIGHT CURFEW IN SURAT :  पहले दिन कहीं सख्ती तो कहीं नरमी

जिन लोगों के कारण वाजिब लगे उन्हें समझा कर घर भेजा और जो टहलने के लिए निकले, उनके साथ सख्ती भी बरती गई। बिना मास्क के लिए निकले लोगों के चालान भी बनाए गए। देर रात शहर के रिंग रोड, परवत पाटिया, अडजाण, डिंडोली समेत अन्य इलाकों के विभिन्न प्वाइंट पर पुलिस की टीमें सक्रिय थी।

दुकानें बंद करवाई, लाउड स्पीकर का उपयोग


सूरत. रात्रि कफ्र्यु के पहले दिन ही पुलिस शहर के विभिन्न इलाकों में सक्रीय हो गई। रात साढ़े आठ बजे से ही शहर के मुख्य मार्गो पर निकली पुलिस की टीमों ने दुकाने व व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद करवाने शुरू कर दिए। पुलिस की पीसीआर वैन ने द्वारा लाउड स्पीकर का उपयोग कर रात्रि कफ्र्यु के बारे में घोषणा भी की गई। साथ ही कोरोना संक्रमण के प्रति जागरुक रहने व नियमों का पालन की अपील की। साथ ही नियमों का उलंघन करने पर दंडात्मक कार्रवाई की बात भी बताई।

हो चुकी है बुकिंग, लाखों रुपए अटके :

गौरतलब है कि फिलहाल शादियों का सीजन है। कई पार्टी प्लाट व हॉल की बुकिंग हो चुकी है। इस संबंध में होटल रेस्टोरंट एसोसिएशन द्वारा मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर छूट देने की मांग भी की गई है। होटल पार्टी प्लॉट आदि के संचालकों ने बताया कि कई ऐसे भी लोग हैं जो अपना कार्यक्रम निरस्त कर बुकिंग का रुपया वापस मांग रहे हैं, लेकिन उन्हें लौटाना उनके लिए संभव इसलिए नहीं है, क्योंकि कार्यक्रम के लिए कई व्यवस्थाओं के लिए एडवांस दिए जा चुके हैं।

KNIGHT CURFEW IN SURAT :  पहले दिन कहीं सख्ती तो कहीं नरमी

वहीं, कुछ लोगों ने लॉकडाउन खत्म होने के बाद नए सिरे से लाखों रुपए लगाकर होटलों और पार्टी प्लॉट आदि को सजाया था। ऐसे में बताया जा रहा है कि सरकार की तरफ से भी ऐसे कार्यक्रमों के लिए मंजूरी के साथ रात में निर्धारित समय तक छूट दी जा सकती है और जनता भी इसमें सहयोग करे।

COVID-19
Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned