गैर कानूनी रेती खनन से स्थानीय लोगों में रोष

खनन पर रोक की मांग के साथ कलक्टर को सौंपा ज्ञापन

By: विनीत शर्मा

Published: 17 Mar 2021, 09:29 PM IST

भरुच. भरुच जिले के नांद गांव के आसपास गैर कानूनी तरीके से रेती व मिट्टी खनन को रोकने व ओवरलोड ट्रकों से होने वाले नुकसान को लेकर स्थानीय ग्रामीणों में नाराजगी देखने को मिल रही है। गैर कानूनी रेती खनन पर रोक लगाने की मांग के साथ ग्रामीणों ने कलक्टर को ज्ञापन दिया।

ग्रामीणों ने कलक्टर को सौंपे ज्ञापन में कहा कि नांद, शाहपुरा, भरथाणा, सामलोद गांव के आसपास नर्मदा नदी के किनारे से धड़ल्ले से अवैध रेती खनन का काम किया जा रहा है। इस कारण गांव के आसपास के इलाके में पीने का पानी भी खराब होने लगा है।

रेती व मिट्टी खनन के कारण नर्मदा नदी के पानी के प्रवाह पर भी असर देखने को मिल रहा है। नदी में कई स्थानों पर गहरे गड्ढे बन गये हैं। गांव के मार्ग पर ओवरलोड वाहनों के आने-जाने से मार्ग भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। साथ ही उडऩे वाली रेती व धूल के कारण लोगों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned