LOCKDOWN: सैकड़ों कोरोना संक्रमितों के बीच डटा है यह योद्धा

राजस्थान के टोंक जिले के टोडारायसिंह कस्बे का योद्धा जावेद वहाब अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल होस्पीटल में नर्सिंग ऑफीसर के रूप में तैनात है और पहले अस्पताल में कोविड सैम्पल लेने का कार्य कर रहे थे और अभी कोरोना संक्रमितों का सीटी थ्रॉक्स समेत अन्य जांच कार्य में सक्रिय

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 10 May 2020, 08:48 PM IST

सूरत. अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल होस्पीटल में उपचाराधीन सैकड़ों कोरोना संक्रमितों के उपचार में राजस्थान के टोंक जिले के टोडारायसिंह कस्बे का योद्धा डटकर खड़ा है। जावेद वहाब अस्पताल में नर्सिंग ऑफीसर के रूप में तैनात है और पहले अस्पताल में कोविड सैम्पल लेने का कार्य कर रहे थे और अभी कोरोना संक्रमितों का सीटी थ्रॉक्स समेत अन्य जांच कार्य में सक्रिय है। जावेद वहाब ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मामले में अहमदाबाद देशभर में दूसरे नम्बर पर है और ऐसे में उनकी जिम्मेदारी कोरोना संक्रमितों के उपचार में अहम बन जाती है। रमजान में रोजे रखकर वे कोरोना संकट से लडऩे में सहयोग कर रहे हैं। एसवीपी अस्पताल में ड्यूटी के बाद घर पहुंचने पर ढाई वर्षीया बेटी जारा को देखते ही सारी थकान उड़ जाती है और नई ताजगी और जिम्मेदारी के एहसास के साथ अगले दिन के लिए फिर तैयार हो जाता हूं।


परिजनों को रहती है चिंता


गांव से रोजाना परिजन फोन कर हाल-चाल जानते हैं। उन्हें अहमदाबाद में होने से काफी चिंता है, लेकिन उन्हें हंसकर सबकुछ ठीक है और ऊपरवाला सब ठीक कर देगा कहकर दिलासा देता हूं। वहीं, मेरी भाभी नाजिया भी मेडिकल सेवा में होने से टोडारायसिंह तहसील क्षेत्र में कोरोना योद्धा के रूप में कार्यरत है।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned