LOK SABHA 2019 : वीएनएसजीयू की वेबसाइट पर आचार संहिता का उल्लंघन..!

सीनेट सभा को लेकर भी हुई है चुनाव अधिकारी को आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत

By: Divyesh Kumar Sondarva

Updated: 29 Mar 2019, 08:34 PM IST

सूरत.

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है। विश्वविद्यालय की सीनेट सभा को लेकर भी आचार संहिता का उल्लंघन होने की चुनाव अधिकारी से शिकायत की गई है।
चुनाव आयोग की ओर से लोकसभा चुनाव की घोषणा होने पर आचार संहिता लागू हो गई। विश्वविद्यालय, शैक्षणिक संस्थानों, महाविद्यालयों और विद्यालयों को आचार संहिता का पालन करने का आदेश दिया गया है। सभी को परिपत्र के माध्यम से आचार संहिता के नियम भेजे गए। इसमें नेताओं के फोटो और नेताओं के केलेन्डर, उद्घाटन की फोटो, प्रकल्पों की फोटो और विभिन्न सरकारी योजनाओं को परिसर, कार्यालय और वर्गों से हटाने का आदेश दिया गया। साथ ही यह सारी जानकारी भी वेबसाइट से हटाने का निर्देश दिया गया। क्योंकि विश्वविद्यालय, शैक्षणिक संस्थान, महाविद्यालय और विद्यालय अपने प्रचार प्रसार के लिए नेताओं के फोटो वेबसाइट पर जारी करते हैं। वेबसाइट पर फोटो और सरकारी योजना का प्रचार चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और शिक्षामंत्री भूपेन्द्रसिंह चूड़ासमा की फोटो है। आचार संहिता के नियमानुसार नेताओं के फोटो नियम का उल्लंघन है। साथ ही विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर विद्यार्थियों को दी जाने वाली सरकारी छात्रवृति योजनाओं की भी जानकारी है।

रुकवाया गया था नमो टेबलेट का वितरण
आचार संहिता के दौरान विश्वविद्यालय के कन्वेन्शन हॉल में नमो टेबलेट के वितरण का कार्यक्रम रखा गया था। दक्षिण गुजरात के विभिन्न महाविद्यालयों से प्रतिनिधियों को बुलाया गया था। कांग्रेस के पार्षद ने इसकी जानकारी चुनाव अधिकारी को की। चुनाव अधिकारी कन्वेन्शन हॉल पहुंचे और नमो टेबलेट वितरण को बंद करवा दिया था। साथ ही बड़ी संख्या में टेबलेट को एक कमरे में सील करवा दिया। बोर्ड परीक्षा में ऊंचे अंक लाकर ग्रेज्यूएशन में प्रवेश करने वालों को गुजरात सरकार की एक योजना के तहत यह नमो टेबलेट वितरित किए जाने हैं। आचार संहिता के चलते इसको रोका गया।

जांच की जाएगी
& वेबसाइट पर नेताओं के फोटो होना आचार संहिता का उल्लंघन है। विश्वविद्यालय की वेबसाइट की जांच कर इसे हटाने का आदेश दिया जाएगा।
सी.पी.पटेल,
चुनाव अधिकारी, सूरत

Divyesh Kumar Sondarva Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned