FIRE : अस्पताल की आग में हुआ 80 लाख का नुकसान !

- सूरत के बड़े निजी अस्पताल में आग से अफरा तफरी
- परिसर में फंसे 20 मरीजों को सकुशल बाहर निकाला, कोई हताहत नहीं
- दमकल के दस वाहन पहुंचे मौके पर, टीआरबी जवान भी जुटे बचाव में
- अठवालाइन्स पुलिस ने रोजनामचे में घटना दर्ज कर शुरू की जांच

By: Dinesh M Trivedi

Published: 20 Nov 2020, 04:19 PM IST


सूरत. शहर के नानपुरा क्षेत्र के एक बड़े निजी अस्पताल में बुधवार दोपहर आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलने पर दमकल कर्मियों कई दस्ते मौके पर पहुंच गए। बचावकर्मियों ने परिसर में फंसे करीब 20 मरीजों को सुरक्षित निकाल कर अन्य अस्पताल में स्थानान्तरित किया तथा आग पर काबू पाया। हादसे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

आग लगने का पुख्ता कारण पता नहीं चल पाया है लेकिन प्राथमिकतौर पर पहली मंजिल पर बने सर्वर में इलेक्ट्रिक शॉर्ट सक्रिट को आग की वजह माना जा रहा है। अठवा गेट स्थित ट्राई स्टार अस्पताल में बुधवार दोपहर आग लग गई। अस्पताल की पहली मंजिल से काला धुंआ उठता दिखाई दिया तो परिसर में अफरा तफरी मच गई। सूचना मिलने के बाद मजुरा साथ निकटवर्ती मान दरवाजा और नवसारी बाजार फायर स्टेशनों से भी 8-10 गाडिय़ां मौके पर पहुंच गई। दमकल कर्मियों ने कुछ ही समय में आग पर काबू पाया। अस्पताल की दूसरी मंजिल पर करीब 20 मरीज भर्ती थे। सभी को रेस्क्यू कर सुरक्षित निकाला गया। उन्हें तुंरत एम्बुलेंस के जरिए निकट के अन्य अस्पतालों में स्थानान्तरित किया गया। घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

- किसकी कोताही से लगी आग ?

मौके पर पहुंची अठवा पुलिस ने घटना रोजनामचे में दर्ज कर ली है। मामले की जांच कर रहे पुलिस उप निरीक्षक डी.के.पटेल ने बताया कि अस्पताल की पहली मंजिल से उपर की तरफ अचानक धुंआ निकलता हुआ नजर आया। नीचे सुरक्षाकर्मियों ने धुंए का गुब्बार देखा तो आग की खबर दी। अभी पुख्तातौर पर नहीं कहा जा सकता की आग किस वजह से लगी है। मौके से फोरेन्सिक विशेषज्ञों की टीम ने सैम्पल लिए है। विद्युत कंपनी के विशेषज्ञों से भी मौके पर जांच करवा कर उनका मंतव्य लिया जा रहा हैं। सारी रिर्पोट्स आने के बाद ही पता चल पाएगा कि आग किस वजह से लगी। लेकिन बताया जाता हैं कि पहली मंजिल पर बने सर्वर रूम में इलेक्ट्रिक शॉर्ट सक्रिट होने की वजह से आग भडक़ी और फिर पूरे सर्वर रूम में फैली।

- ऑक्सीजन मास्क और ग्लूकोज के साथ निकाला बाहार

ट्राई स्टार अस्पताल में आग लगने से अफरा तफरी मची दिखाई देने पर अठवा गेट पर तैनात टीआरबी जवान और राहगीर मदद के लिए दौड़ आए। उन्होंने अस्पातल परिसर में फंसे मरीजों को ऑक्सीजन मास्क और ग्लूकोज की बोतलों के साथ बाहर निकाल कर अन्य अस्पतालों तक पहुंचाने में दमकल व अस्पतालकर्मियों की मदद की।

- अस्पताल में आग से मचा हडक़ंप

ट्राई अस्पताल में लगी आग इतनी भीषण तो नहीं थी। लेकिन इस घटना ने एक बार फिर संवेदनशील स्थानों पर सुरक्षा मानकों के प्रति बरती जा रही कोताही को उजागर कर दिया है। गौरतलब हैं कि इसी साल अगस्त में माह में अहमदाबाद में नवरंगपुरा क्षेत्र के कोविड अस्पताल में लगी आग में 19 मरीजों की मौत हो गई थी। पिछले साल सूरत में ही हुए तक्षशिला अग्निकांड ने पूरे देश को झकझोर दिया था। इस घटना में 22 छात्रों की मौत हो गई थी। बुधवार को फिर अस्पताल में आग की खबर से प्रशासन ही नहीं पूरे शहर में हडक़ंप मच गया। दमकल के साथ प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned