ऊपरी क्षेत्र में बारिश का जोर घटा, मधुबन डेम का जलस्तर नियंत्रण में

9 गेट एक मीटर ऊंचाई तक खोले गए

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 22 Jul 2021, 08:37 PM IST

सिलवासा. जिले के मधुबन डेम से बुधवार रात एक लाख 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद जलस्तर नियंत्रण में हैं। ऊपरी क्षेत्र में बारिश का जोर घटने से डेम में इनफ्लो भी कम हो गया हैं। गुरुवार को डेम का जलस्तर 72.05 मीटर एवं डिस्चार्ज घटकर 51 हजार क्यूसेक रह गया है। डेम अधिकारी 24 घंटे नासिक व त्र्यंबकेश्वर में होने वाली बारिश पर नजर रख रहे हैं।


मधुबन डेम में अचानक जलस्तर बढऩे से बुधवार रात डेम के 9 गेट एक मीटर ऊंचाई तक खोल दिए थे। इसके बाद डेम का जलस्तर नियंत्रण में आते ही दो गेट बंद कर दिए एवं सात गेट 2 मीटर तक चालू रखे हैं। डिस्चार्ज बढऩे से दमणगंगा किनारे बसे कराड़, रखोली, कुड़ाचा, सामरवरणी, मसाट, आमली, अथाल, पिपरिया, पाटी, चिचपाड़ा, वासोणा, दपाड़ा, तीघरा, वाघधरा, लवाछा में नदी उफान पर बह रही है। पुलिस प्रशासन को कुछ देर के लिए अथाल रिवर फ्रंट पर बने पुराने ब्रिज पर वाहनों का आवागमन बंद करना पड़ा। फिलहाल रिवरफ्रंट और नक्षत्र गार्डन को बंद कर दिया है। गुरुवार को बारिश का रूख थोड़ा नरम रहा। बाढ़ नियंत्रण केन्द्र ने अब तक शहर में 850 मिमी तथा खानवेल में 1120 मिमी बारिश रिकॉर्ड की है। अथाल में नदी 27.7 मीटर ऊंचाई तक बह रही है। चौड़ा, बिन्द्राबीन में साकरतोड़ वेग के साथ बह रही है। अथाल में स्वामीनारायण मंदिर के निकट श्मशान घाट में पानी घुस गया। मधुबन डेम में डिस्चार्ज बढ़ाने से चेकडेम और तालाब ओवरफ्लो हो गए हैं।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned