कपड़ा व हीरा व्यापारियों से लाखों की धोखाधड़ी

कपड़ा व हीरा व्यापारियों से लाखों की धोखाधड़ी

Dinesh M Trivedi | Publish: Sep, 05 2018 09:56:59 PM (IST) Surat, Gujarat, India

सलाबतपुरा व वराछा थाने में प्राथमिकी दर्ज

सूरत. सलाबतपुरा व वराछा में कपड़ा व हीरा व्यापारियों के साथ लाखों रुपए की धोखाधड़ी के दो अलग अलग मामले दर्ज हुए है। सलाबतपुरा पुलिस के मुताबिक रिंग रोड स्थित लक्ष्मी टेक्सटाइल मार्केट के सुरेश प्रजापति, दलाल प्रकाश प्रजापति व प्रेमसिंह राजपूत ने मिल कर कतारगाम शांतिनगर सोसायटी निवासी कपड़ा व्यापारी संजय रोकड़ के साथ धोखाधड़ी की। गत१७ मार्च से ३० मार्च के दौरान उन्होंने बीस दिन में भुगतान का वादा कर संजय व अन्य व्यापारियों से ४१ लाख ३५ हजार ४६८ रुपए का ग्रे कपड़ा उधार लिया लेकिन उसका भुगतान नहीं कर धोखाधड़ी की।


वराछा पुलिस के मुताबिक मोटा वराछा साईं मिलन अपार्टमेंट निवासी तुषार सवाणी ने वेड रोड केशव पार्क सोसायटी निवासी हितेश घोरी के साथ धोखाधड़ी की। मीना बाजार स्थित सरदार डायमंड मार्केट में हीरे का कारोबार करने वाले हितेश से २७ अगस्त को मिला। उसने ग्राहक होने की बात बता कर दलाली पर बेचने के लिए ६६ लाख ३९ हजार ७५६ रुपए के ३५४.८९ कैरेट तैयार हीरे लिए। लेकिन उनका भुगतान नहीं किया और न ही हीरे लौटाए। इस पर हितेश ने गुरुवार को वराछा थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

एटीएम तोडऩे वाले गिरोह के तीन पकड़े


सूरत. पूणागाम पुलिस ने एटीएम तोडऩे वाले गिरोह के तीन जनों को कतारगाम क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक कामरेज नंदनवन सोसायटी निवासी अनिल गिरी गौस्वामी शातिर है। वह पहले भी एटीएम से जुड़ी धोखाधड़ी के मामलों में पकड़ा जा चुका है।

वह अपने दो साथियों कामरेज अंबोली गांव निवासी अल्ताफ समा व वराछा कैलाशधाम सोसायटी निवासी शैलेश वाघेला के साथ एटीएम तोडऩे की फिराक में था। उन्होंने कतारगाम धोलकिया गार्डन स्थित बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम की रेकी भी की थी। वे शुक्रवार रात एक कार में एटीएम तोडऩे के लिए जा रहे थे। उसी समय पूणागाम पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर उन्हें धर दबोचा। उनके कब्जे से पुलिस को मशीन तोडऩे के औजार भी मिले है।

Ad Block is Banned