duplicate remdesivir : दस हजार से अधिक नकली रेमडेसिविर बेचने वालों से पूछताछ


- आरोपी कौशल व पुनित को हिरासत में लेकर तीन दिन के रिमांड पर लिया

- सूरत के निकट पिंजरत के फार्म हाउस में नमक व ग्लूकोज पाउडर से तैयार करते थे इंजेक्शन

 

By: Dinesh M Trivedi

Published: 09 Jun 2021, 10:24 AM IST

सूरत. रातों रात अरबपति बनने के चक्कर में लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वाले कौशल व उसके मित्र पुनित को क्राइम ब्रांच ने मोरबी पुलिस से हिरासत में लेकर कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया हैं।

पुलिस निरीक्षक तेजस गढ़वी ने बताया कि अडाजण श्याम सृष्टि अपार्टमेंट निवासी कौशल वोरा व मुंबई मीरा रोड़ निवासी पुनित शाह ने पिंजरत गांव के फार्म हाउस में लगाई फैक्ट्री में हजारों नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन तैयार किए थे। अप्रेल में जब कोरोना संक्रमण अपनी तेजी पर था और सूरत समेत देशभर के श्मशानों में लाशों के ढेर लग रहे थे।

तब मास्टर माइंड कौशल ने मरीजों की परिजनों की मजबूरी का फायदा उठाने और रातों रात अरबपति बनने के लिए नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने का प्लान बनाया। पिंजरत में फॉर्म हाउस किराए पर लिया और मुंबई ,वापी व सूरत से इंजेक्शन का पैकिंग मटेरियल हासिल किया। इंजेक्शन की सीरीज में नमक और ग्लूकोज पाउडर भर कर पन्द्रह दिनों में हाजरों नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन तैयार किए।

इंजेक्शन तैयार करने के लिए चार जनों को काम पर भी रखा था। फिर इन नकली इंजेक्शन को सूरत व गुजरात ही नहीं देश भर के कोरोना मरीजों तक पहुंचाने का नेटवर्क भी तैयार कर लिया। अपने इस नेटवर्क के जरिए उन्होंने मुंह मांगे दामों पर गुजरात के अलावा मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, झारखंड और छत्तीसगढ़ समेत देश के अन्य राज्यों में दस हजार से अधिक नकली इंजेक्शन बेचे।

सिर्फ सूरत में अपने एजेन्ट जयदेव सिंह झाला के जरिए 502 इंजेक्शन बेचे। जिनमें से कई इंजेक्शन वडोदरा, अंकलेश्वर, जालोद समेत अन्य शहरों में भी पहुंच गए। बाद में पुलिस ने करीब 112 इंजेक्शन बरामद किए थे। उल्लेखनीय हैं कि गत एक मई को मोरबी पुलिस ने सूरत के निकट पिंजरत गांव के फॉर्म हाउस पर छापा मारा था।

मोरबी में एक डॉक्टर द्वारा इंजेक्शन पर संदेह जताने पर मामला सामने आया था। मोरबी पुलिस इंजेक्शन की जांच शुरू की और बिक्री के नेटवर्क को भेदते हुए अहमदाबाद और फिर सूरत पहुंची थी। बाद में मोरबी पुलिस ने इस नेटवर्क से जुड़े कई लोगों को गिरफ्तार किया था। क्राइम ब्रांच ने भी अलग से मामला दर्ज कर सूरत में इंजेक्शन बेचने वाले झाला को गिरफ्तार किया था। कौशल व पुनीत के खिलाफ देश के अन्य शहरों व राज्यों में भी मामले दर्ज हैं।

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned