प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 65,000 से अधिक फार्म बिके, 7410 ने भरे सहमति पत्र

- दस हजार से अधिक लोगों को अपने आशियाने का है इंतजार...

- वेटिंग लिस्ट में शामिल लोग नए ड्रॉ में शामिल होने के लिए सहमति पत्र भरने पहुंच रहे हैं केंद्रों पर

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 10 Sep 2021, 09:43 PM IST

सूरत.

शहर में प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए इडब्ल्यूएस टाइप- 2 में 8,279 घरों के लिए अब तक 65,000 से अधिक फार्म बिक्री हुई है। जबकि तीन साल से प्रतीक्षा सूची वाले 10,800 लोगों के लिए कैम्प के जरिए सहमति पत्र भरवाने की प्रक्रिया जारी है। अब तक प्रतीक्षा सूची वाले 7410 लोगों ने सहमति फार्म भरे हैं। जिन्हें इस वर्ष के लकी ड्रॉ में शामिल किया जाएगा। नए आवास के लिए फार्म भरने की अंतिम तारिख 16 सितम्बर है।

सूरत में प्रधानमंत्री आवास योजना (फेज-2) के तहत ईडब्लूएस टाइप-2 स्किम में अपना घर लेने के इच्छुक लोग आवेदन करने के लिए आगे आ रहे हैं। 5 अगस्त से मनपा ने आवास के लिए फार्म की बिक्री शुरू की है। इसमें 16 सितम्बर तक फार्म भरने की तारीख तय की गई है। इसके बाद मनपा कंप्यूटराइज्ड ड्रॉ के तहत 8,279 लोगों के लिए आवास मुहैया करवाएगी।

मनपा अधिकारियों ने बताया कि अब तक 65 हजार फार्म की बिक्री हुई है। वहीं, फार्म भरने वालों की संख्या अभी काफी कम है। अधिकारियों ने आंकड़े 16 सितम्बर को जारी करने की बात कही है। हाल में मनपा ने प्रतीक्षा सूची के लोगों के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में कैम्प करके सहमति पत्र भरवाने में लगी है। 2019, 2020 में प्रधानमंत्री आवास के लिए आवेदन करने वालों में वेटिंग रह गए लोगों की संख्या 10,800 है। उन्हें हाल में होने वाले लकी ड्रॉ में शामिल करने के लिए सहमति पत्र भरवा रहे हैं।

अब तक कुल 7,410 लोगों ने सहमति फार्म भरे हैं। केन्द्रों पर प्रतीक्षा सूची वाले लोग उमड़ रहे है। उन्हें भाड़े के मकान से खुद के घर का सपना 2021 में पूरा होता दिखाई देने लगा है। गौरतलब है कि, इसके पहले मनपा ने प्रतीक्षा सूची वालों के लिए वेडरोड सिंगणपोर और संगरामपुरा कम्युनिटी हॉल में भी दो कैम्प किए थे।

पार्किंग और खेलने की जगह अच्छी

घर के लिए पिछले साल आवेदन किया था, लेकिन वेटिंग में होने के कारण घर नहीं मिला। नए कंस्ट्रक्शन में पार्किंग और बच्चों के खेलने की जगह अच्छी है, इसलिए आवेदन किया है। आशा करता हूं कि इस बार मेरा नम्बर लग जाएगा।

-सिकंदर शेख, ड्राइवर, रसुलाबाद, भटार।

घर सस्ते और लोकेशन बेस्ट

मैंने 2019 में आवेदन किया था, लेकिन अब तक नम्बर नहीं लगा है। पिछले साल भी सहमति पत्र भरा था, लेकिन उसमें भी वेटिंग रह गया। मैं राजस्थान के सिवाना मेली गांव का निवासी हूं और सूरत में रेडिमेड कपड़े का व्यवसाय करता हूं। सूरत में पीएम आवास योजना के घर सस्ते और लोकेशन में बेस्ट है।

- प्रेम सिंह, कपड़ा व्यापारी, नारायण नगर, भटार, सूरत।


सूरत में घर का सपना होगा पूरा

एम्ब्रोयडरी वर्क में दलाली करके परिवार के साथ किराए के मकान में पत्नी व तीन बच्चों के साथ रहता हूं। मूल रुप से जोधपुर का निवासी हूं लेकिन पिता वर्षो पहले व्यापार के लिए सूरत आ गए थे। पीएम योजना में कम लागत में अच्छा घर मिल रहा है। छोटी आमदनी वालों के लिए अच्छी पहल है।

-परिहार राम किशोर, विवेकानंद सोसायटी, पुणागाम, सूरत।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned