पांच सौ से अधिक करदाताओं को एडवांस टैक्स के लिए पत्र भेजा

पांच सौ से अधिक करदाताओं को एडवांस टैक्स के लिए पत्र भेजा

Pradeep Devmani Mishra | Publish: Dec, 08 2018 07:43:26 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

करदाताओं को पत्र लिखकर समय पर उचित टैक्स जमा करने का निर्देश दिया


सूरत
आयकर विभाग वर्तमान वित्तीय वर्ष में टार्गेट को हांसिल करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहा है। इसलिए विभाग ने एडवांस टैक्स के कलेक्शन पर भी विशेष जोर दिया है। विभाग ने शहर के बड़ी संख्या में करदाताओं को नोटिस देकर समय पर एडवांस टैक्स भरने का निर्देश दिया है।
एडवांस टैक्स का तीसरा हप्ता भरने के लिए 31 दिसंबर अंतिम तारीख है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में आयकर विभाग को 5600 करोड़ रुपए का लक्ष्य हांसिल करना है। वर्तमान वित्तीय वर्ष को पूरा होने में साढे तीन महीने शेष हैं इसलिए विभाग ने अभी से तमाम प्रयास शुरू कर दिए हैं। पिछले दिनों विभाग ने टैक्स नहीं भरने वाले कई व्यापारियों के यहां रिकवरी सर्वे का अभियान चलाया था और करोड़ो की टैक्स वसूली की थी और कई वर्षो पुराने मामलों में भी टैक्स नहीं चुकाने वाले करदाताओं को संपत्ति अटैच कर कार्रवाई की थी। अब आयकर विभाग ने एडवांस टैक्स के कलेक्शन पर जोर देना शुरू किया है। एडवांस टैक्स भरने की अंतिम तिथि नजदीक आ रही है। इसलिए विभाग ने करदाताओं को पत्र लिखकर समय पर उचित टैक्स जमा करने का निर्देश दिया है। एडवांस टैक्स के दूसरे हप्ते में जिन करदाताओं ने कम टैक्स जमा करवाया था उन्हें भी इस बार उचित टैक्स जमा करने को कहा है। उल्लेखनीय है कि यदि करदाता पिछली बार दिसंबर की अपेक्षा इस साल कम टैक्स जमा करेगें तो ऐसे करदाताओं को बुलाकर कम टैक्स जमा करने की पूछताछ भी करेगा और यदि आवश्यकता हुई तो उनके खिलाफ सर्वे की कार्रवाई भी कर सकता है।
जीएसटी वार्षिक रिटर्न फाइल करने की समय सीमां 31 मार्च तक बढ़ी
केन्द्र सरकार ने व्यापारियों की मांग को ध्यान में रख जीएसटी का वार्षिक रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि 31 मार्च कर दी है। अब तक यह सीमां 31 दिसंबर थी। कॉन्फिडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स एसोसिएसन सहित अन्य व्यापारिक संस्थाओं ने इस बारे में केन्द्र सरकार से गुहार लगाई थी।
व्यापारिक संस्थानों का कहना था कि जीएसटी पोर्टल की ओर से अभी तक वार्षिक रिटर्न का प्रारूप ऑनलाइन पोर्टल पर नहीं रखा गया। देशभर में एक करोड़ से अधिक व्यापारी जीएसटी में रजिस्टर्ड है और अब कुछ दिन ही शेष हैं इसलिए रिटर्न फाइल कर पाना मुश्किल होगा।

Ad Block is Banned