सांसद का जन्मदिन उत्सव, 15 मिनट के कार्यक्रम के लिए तीन घंटे बंद रही वैक्सीन साइट

- सुबह 10 बजे ट्रॉमा सेंटर आए वरिष्ठ नागरिक को दोपहर डेढ़ बजे मिली वैक्सीन

 

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 17 Mar 2021, 11:10 PM IST

सूरत.

न्यू सिविल अस्पताल का ट्रॉमा सेंटर मंगलवार को कुछ अलग दिख रहा था। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और सांसद सी. आर. पाटील के जन्मदिन को लेकर गेट से लेकर वैक्सीन साइट तक रंग-बिरंगे बैलून से सजाया गया था। पाटील दोपहर एक बजे ट्रॉमा सेंटर पहुंचे और 15 मिनट में कार्यक्रम पूरा कर निकल गए। उधर, वैक्सीन साइट तीन घंटे बंद रहने से आए लोग परेशान हुए। सुबह 10 बजे वैक्सीन लेने पहुंचे वरिष्ठ नागरिकों को दोपहर डेढ़ बजे वैक्सीन दी गई।

न्यू सिविल अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में मंगलवार को पार्टी कार्यकर्ता सुबह से ही ट्रॉमा सेंटर को सजाने में व्यस्त हो गए थे। इस दौरान ट्रॉमा सेंटर में वैक्सीन लेने आने वालों को वेटिंग रूम में बैठने के लिए कहा गया। वहीं, अस्पताल के कुछ डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ भी जन्मदिन की तैयारियों में व्यस्त दिखाई दिए। करीब तीन घंटे इंतजार करने के बाद पाटील अपने परिवार के साथ ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले वेटिंग रूम में बैठे लोगों को नाश्ते के डिब्बे भेंट किए।

सांसद का जन्मदिन उत्सव, 15 मिनट के कार्यक्रम के लिए तीन घंटे बंद रही वैक्सीन साइट

इसके बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल द्वारा नि:शुल्क कोरोना वैक्सीन दी जा रही है। आज मेरे जन्मदिन पर भाजपा और यूथ फोर गुजरात के कार्यकर्ताओं ने शहर के अलग-अलग क्षेत्रों से 67 भिक्षुकों को इकठ्ठा किया और उनके टीकाकरण की व्यवस्था की है। समाज के अंतिम तबक्के के इन लोगों के उपर कोई ध्यान नहीं देता है, लेकिन भाजपा ने उनको भी कोरोना से बचाने के लिए वैक्सीन लेने के लिए तैयार किया है।

संबोधन के बाद वे वैक्सीन साइट पर गए और एक वरिष्ठ नागरिक महिला के वैक्सीन लेने के दौरान फोटो खिंचवाई और लौट गए। वैक्सीन लेने के लिए वेटिंग रूम में बैठे कई लोगों से राजस्थान पत्रिका ने बातचीत की। अधिकांश ने बताया कि वे श्रमिक हैं और कपड़ा बाजार में काम करते हैं। कुछ लोगों ने भटार क्षेत्र में नौकरी करने की बात कही। वहीं, महिलाओं ने बताया कि वे घरों में काम करतीं है, कुछ ने कबाड़ बेचने का कार्य करने की जानकारी दी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के जाते ही ज्यादातर लोग बिना वैक्सीन लिए ही लौट गए।

170 जनों का टीकाकरण

ट्रॉमा सेंटर वैक्सीन साइट पर मंगलवार को कुल 170 जनों ने कोरोना वैक्सीन ली है। इसमें 62 स्वास्थ्य कर्मचारियों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है। इसमें निजी क्लिनीक के डॉक्टर, 41 पैरामेडिकल स्टाफ, चार चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी और 12 मेडिकल छात्र शामिल हैं। 11 स्वास्थ्यकर्मी को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई है। जिनमें 4 डॉक्टर, 2 नर्स , 3 पैरामेडिकल स्टाफ, एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, एक मेडिकल छात्र शामिल हैं। जबकि फ्रंट लाइन 25 कर्मचारियों को वैक्सीन दी गई है। इसके अलावा 72 वरिष्ठ नागरिकों तथा कोमरबिड को वैक्सीन दी गई है।

सांसद का जन्मदिन उत्सव, 15 मिनट के कार्यक्रम के लिए तीन घंटे बंद रही वैक्सीन साइट

तीन घंटे बाद मिली वैक्सीन

कोरोना वैक्सीन लेने के लिए सुबह 10 बजे ट्रॉमा सेंटर आया था। लेकिन स्टाफ ने कहा कि अभी थोड़ा समय लगेगा। इसके चलते मैं अपने दोस्त को बुलाने पारले प्वॉइंट गए और 10.30 बजे तक ट्रॉमा सेंटर लौट आए, लेकिन मुझे और इंतजार करने के लिए कहा गया। करीब दोपहर डेढ़ बजे मुझे वैक्सीन दी गई है।

- सत्यनारायण सिंह, श्रमिक, कपड़ा बाजार, सूरत।

मेरे साथ 16 महिलाएं आई हैं

हमें वैक्सीन लेने के लिए बुलाया गया है। सुबह 10 बजे अस्पताल आए थे और यहीं इंतजार कर रहे हैं। मेरे साथ 16 महिलाएं भी आई हैं, जो अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने के लिए जाती है। मैं कबाड़ चुनने और बेचने का काम करती हूं।

- जमना विजय ठाकरे, श्रमिक, भटार, सूरत।

कुछ देर के लिए रोका था वैक्सिनेशन

ट्रॉमा सेंटर में वैक्सिनेशन मंगलवार सुबह चालू हो गया था और 10-11 बजे तक लोगों को वैक्सीन दी गई। लेकिन बाद में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के पहुंचने के कुछ देर पहले भीड़-भाड़ की स्थिति न हो, इसके लिए कुछ देर वैक्सिनेशन रोका था। इस दौरान कुछ लोगों को इंतजार करना पड़ा होगा। जिसकी मुझे जानकारी नहीं है।

- डॉ. शैलेष एम. पटेल, अधीक्षक, न्यू सिविल अस्पताल, सूरत।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned