गमले में बनाए मिट्टी के गणेश

गमले में बनाए मिट्टी के गणेश

Vineet Sharma | Publish: Sep, 16 2018 06:43:06 PM (IST) Surat, Gujarat, India

जल प्रदूषण रोकने के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे पर्यावरण प्रेमी

बारडोली. सूरत जिले में गणपति महोत्सव की धूम मची हुई हैं। गणेशोत्सव का त्योहार आते ही प्लास्टर ऑफ पेरिस की मूर्ति विसर्जन के कारण नदी, तालाबों में जल प्रदूषण का मुद्दा उठने लगता है। प्लास्टर ऑफ पेरिस की प्रतिमाओं में इन दिनों रंग के जगह पर पेंट का इस्तेमाल जल प्रदूषण के लिए सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है। वहीं कुछ पर्यावरण प्रेमी जल प्रदूषण रोकने और लोगों में जागरूकता लाने के लिए अलग-अलग तरीके अपनाते हैं।

वहीं मांडवी तहसील के सरकुई गांव स्थित तापीवन विद्यालय के शिक्षक बारडोली निवासी अशोक कुमार सोलंकी गणेशोत्सव कुछ अलग तरीके से मना रहे हैं। सोलंकी ने अपने निवास स्थान बारडोली के शालिग्राम सोसायटी और तापीवन विद्यालय में मिट्टी से बनाए गए गणपति प्रतिमाएं स्थापित की है।

यह मूर्ति उन्होंने पेड़-पौधा लगाने वाले गमले में स्थापित की है। गमले में स्थापित भगवान गणेश की दस दिनों तक पूजा-अर्चना के बाद प्रतिमा को कुंडे में ही विसर्जित किया जाएगा। बाद में इसी मिट्टी में पौधा लगाया जाएगा। इसके अलावा अशोक कुमार ने पर्यावरण व जलप्रदूषण के प्रति जागरुकता लाने के उद्देश्य से शाला में -छात्र-छात्राओं को शपथ दिलाई।

कॉमन वेटिंग लिस्ट को मिला लाभ

सूरत. मनपा प्रशासन ने शनिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना और मुख्यमंत्री गृह योजना के आवासों के ड्रॉ निकाले। इसका लाभ उन लाभार्थियों को मिला जिन्हें पूर्व में आयोजित ड्रॉ में आवास नहीं मिले थे और उनके नाम कॉमन वेटिंग लिस्ट में शामिल थे। महापौर जगदीश पटेल ने स्थाई समिति खंड में कम्प्यूटराइज्ड ड्रॉ किया। ड्रॉ में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ईडब्ल्यूएस टाइप वन के 33, ईडब्ल्यूएस टाइप टू के 9, मुख्यमंत्री गृह योजना के तहत ईडब्ल्यूएस के 9 और एलआइजी के 20 लाभार्थियों को आवासों का आवंटन किया गया।

स्थगित हुआ गटर समिति का दौरा

सूरत. ड्रेनेज के शहरभर में चल रहे प्रोजेक्ट्स पर प्रस्तावित समिति का पूर्व निर्धारित दौरा शनिवार को ऐन वक्त पर स्थगित हो गया। समिति के चेयरमैन अमित राजपूत ने बताया कि अपरिहार्य कारणों से कोरम पूरा नहीं होने के कारण इसे स्थगित किया गया है।

Ad Block is Banned