नाजायज संबंध के कारण हुई थी महिला डाक्टर की हत्या

डांग पुलिस और सूरत क्राइम ब्रांच पुलिस ने वराछा की महिला चिकित्सक की हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए हत्या के आरोप में महिला के पति के दोस्त...

By: मुकेश शर्मा

Published: 24 May 2018, 11:07 PM IST

सूरत।डांग पुलिस और सूरत क्राइम ब्रांच पुलिस ने वराछा की महिला चिकित्सक की हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए हत्या के आरोप में महिला के पति के दोस्त समेत दो जनों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक पति के दोस्त के साथ महिला चिकित्सक के अवैध संबंंध थे। इसी कारण उसकी हत्या कर शव डांग में फेंक दिया गया था।

पुलिस के मुताबिक 28 अप्रेल को डांग जिले की वघई तहसील के साकतपातल गांव की सीमा में अज्ञात महिला का हत्या किया शव मिला था। वघई पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर महिला की शिनाख्त के प्रयास शुरू किए। पुलिस की ओर से महिला की तस्वीर के साथ पोस्टर छपवाए गए और सोशल मीडिया पर भी तस्वीर वायरल की गई। इसी दौरान वराछा लंबे हनुमान रोड पर पंचरत्न टावर निवासी चिकित्सक नीलेश विराणी ने पुलिस को बताया कि शव उसकी पत्नी बीना का है। सूरत रेंज आईजी ने इस मामले की जांच के लिए डांग पुलिस के साथ-साथ नवसारी, सूरत ग्राम्य, वलसाड की एलसीबी और एसओजी के पुलिसकर्मियों की टीम बनाई तथा सूरत क्राइम ब्रांच से भी सहयोग मांगा।


आखिरकार पुलिस ने हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए महिला की हत्या के आरोप में नीलेश के दोस्त संजय डोबरिया को अमरेली और उसके ड्राइवर तारिक शेख को महाराष्ट्र से धर दबोचा। पुलिस ने बताया कि बीना विराणी होम्योपेथिक डॉक्टर होने के साथ मैक्स लाइफ इंश्योरेंस कंपनी से भी जुड़ी हुई थी। 27 अप्रेल को वह पीहर अमरोली गई थी और वहां से 28 अप्रेल को निकलने के बाद लापता हो गई थी। पुलिस ने बताया कि नीलेश के दोस्त इलेक्ट्रीशियन संजय डोबरिया से बीना के अवैध संबंध थे।


पीहर से निकलने के बाद वह लसकाणा में संजय की दुकान पहुंची और संजय पर शादी के लिए दबाव बनाने लगी। संजय ने वायर से उसका गला घोंट दिया और ड्राइवर तारिक शेख के साथ मिलकर शव को डांग जिले में फेंक दिया। बाद में संजय अमरेली चला गया और तारिक महाराष्ट्र भाग गया था।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned