हादसे का सबब बने पशुओं को पकडऩे में जुटी नपा टीम

पकड़कर भेजा जा रहा पांजरापोल

By: Sunil Mishra

Published: 20 Jul 2020, 01:01 AM IST

वापी. काफी समय से हादसे का सबब बन रहे सड़कों पर भटकते मवेशियों को पकडऩे का अभियान फिर से नपा टीम ने शुरू किया है। दो दिन में करीब 12 पशुओं को पकड़कर राता पांजरापोल भेजा गया है।
वापी की सड़कों पर पशुओं के जमावड़े से यातायात की समस्या के अलावा कई हादसे होते रहते हैं। टाउन हनुमान मंदिर के पास, चला, कोपरली रोड, सिलवासा और देगाम रोड पर यह समस्या ज्यादा देखी जाती है। बरसात में कई सड़कों पर बीच में ही बड़ी संख्या में पशुओं का जमावड़ा रहने से वाहन चालकों के लिए दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इसके अलावा कई सोसायटियों में भी पहुंचकर पशु चारा ढूंढने के प्रयास में कचरा पेटी से कूड़ा सड़कों पर बिखेर देते हैं। इसके कारण लोगों ने नगर पालिका से इस समस्या को दूर करने का अनुरोध किया था। कई नगरपालिका पार्षदों ने भी इसकी शिकायत की थी। आखिरकार दो दिन से नगर पालिका ने सड़कों पर भटकने वाले मवेशियों को पकडऩे का काम शुरू किया है। इसके लिए कई लोगों को लगाया गया है। दो दिन में 12 पशुओं को पकड़ा गया है। रविवार को भी यह काम शाम तक जारी रहा। राता पांजरापोल में पकड़े गए पशुओं को भेजा जा रहा है। नगर पालिका अधिकारी परमार ने बताया कि पकड़े गए पशुओं की देखरेख के लिए पांजरापोल को प्रति पशु 11 हजार रुपए नपा द्वारा दिया जाता है। पकड़े गए पशुओं को छुड़ाने वाले मालिकों से जुर्माना वसूलने के बाद ही इसे छोड़ा जाएगा।

हादसे का सबब बने पशुओं को पकडऩे में जुटी नपा टीम

लीमझर -मोटीवालझर जोडऩे वाला मार्ग खस्ताहाल
वांसदा. तहसील के लीमझर गांव से दुबल फलिया और मोटीवालझर समेत कई गांवों को जोडने वाला मार्ग खस्ताहाल में हैं। इस मार्ग से पसार होना वाहन चालकों के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। मुख्य मार्ग होने के कारण यहां से कई गांव के लोगों का आवागमन होता है। लेकिन दुर्दशाग्रस्त मार्ग पर लोगों को हादसे का डर सता रहा है। कई बार गांव के लोगों ने मार्ग की हालत के बारे में शिकायत की लेकिन अभी तक उसकी मरम्मत नहीं हुई।

पुलिस स्टेशन और तहसीलदार कार्यालय में काढ़ा का वितरण
वांसदा. कोरोना महामारी तथा वर्षाजन्य रोगों के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के उद्देश्य से वांसदा पुलिस थाना और तहसीलदार कार्यालय में आयुर्वेदिक काढ़ा और होम्योपैथिक दवा का वितरण किया गया। आयुर्वेद डॉक्टर नयनाबेन पटेल, प्रकाश चौहाण और होम्योपैथ डॉक्टर रोहत के सहयोग से महिला सुरक्षा समिति की ओर से यह आयोजन कियाग या था। इस अवसर पर रेडक्रॉस संस्था के मंत्री और वांसदा वकील मंडल प्रमुख प्रद्युम्नसिंह सोलंकी, राजू मोहिते, विरल व्यास, वांसदा पीएसआई एमएस वाला समेत कई लोग मौजूद थे।

Sunil Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned