नवसारी पुलिस पर युवकों को पीटने का आरोप

नवसारी पुलिस पर युवकों को पीटने का आरोप

Sunil Mishra | Publish: Sep, 16 2018 07:05:10 PM (IST) Surat, Gujarat, India

वीडियो वायरल होने के बाद जिला अधीक्षक ने सौंपी जांच पुलिस ने कहा अभियुक्तों ने खुद उतारे कपड़े


नवसारी. नवसारी ग्राम्य पुलिस पर सूरत के चार युवकों ने कपड़े उतार कर पीटने का आरोप लगाते हुए कोर्ट में शिकायत की है। वहीं, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया।
ग्राम्य पुलिस का कहना है कि युवकों को नशे की हालत में पकड़ा गया था और उन्होंने खुद ही लॉकअप में कपड़े उतारे थे। पुलिस अधीक्षक नेे मामले की जांच डीसपी को सौंपी है।
सूरत निवासी राहुल, विशाल, समाधान और दिनेश 12 सितम्बर की रात वापी से सूरत लौट रहे थे, तभी राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 48 पर नवसारी के बोरीयाच पथकर नाका के पास पुलिस ने उन्हें रोका। पुलिस के मुताबिक चारों नशे में थे, जिससे उनके खिलाफ प्रोहिबिशन एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में कोर्ट में पेश किया गया। इधर, इन युवकों का शनिवार को एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें तीन युवक लॉकअप में नंगे नजर आ रहे है। वीडियो वायरल होने के बाद युवकों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने उन्हें पकडऩे के बाद 25-25 हजार रुपए की मांग की थी, लेकिन उन्होंने देने से इनकार कर दिया तो उन्हें कपड़े उतार कर पीटा गया। वहीं, पुलिस का कहना है कि युवक नशे में धुत थे और उन्होने खुद ही अपने कपड़े उतार दिए थे। अभियुक्तों के अधिवक्ता नदीम कपाडिय़ा ने कहा कि कोर्ट में पेशी के दौरान युवकों ने उन्हें कपड़े उतार कर पीटे जाने की शिकायत थी और कोर्ट ने उन्हें उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भेजने का आदेश दिया था। शनिवार को सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। इंचार्ज पुलिस अधीक्षक एस.जी.राणा ने बताया कि मामले की जांच डीएसपी को सौंपी गई है।

मारपीट की फरियाद दर्ज
वापी. टाउन थाने में दो पक्षों की ओर से एक दूसरे के खिलाफ मारपीट की शिकायत दर्ज कराई गई है। इसके अंतर्गत चला केवड़ी फलिया के प्रमुख ओरेकल फ्लैट नंबर 102 निवासी और एक कंपनी के आउटलेट में शॉपकीपर प्रशांत योगेन्द्र राय ने पुलिस में शिकायत करते हुए आरोप लगाया है कि बुधवार शाम वह अपने साथी दुकानदार महेन्द्र कुमार के साथ आउटलेट के बाहर बैठा था। इस दौरान चला श्रीपार्क सोसायटी निवासी जयभयु मुकेश वर्मा एक शख्स के साथ वहां पहुंचा और उस पर घूर कर देखने का आरोप लगाकर गाली गलौज शुरू कर दी। साथी दुकानदार महेन्द्र ने गाली देने से मना किया तो जयभयु अपने साथी के साथ उसकी पिटाई करने लगा। बीच-बचाव करने की कोशिश में दोनों ने प्रशांत की भी पिटाई कर दी। किसी तरह वहां से बचकर भागे प्रशांत ने अपने भाई अविनाश को फोन कर घटना बताई तो वह भी वहां पहुंच गया। आरोप है कि जयभयु के कुछ और साथी वहां पहुंच गए और अविनाश को पकड़ कर पीटने लगे। भाई को बचाने गये प्रशांत की फिर से पिटाई कर धमकी देकर सभी वहां से भाग गए। इसकी शिकायत प्रशांत ने पुलिस में करत हुए जयभयु और तीन अन्य को आरोपी बताया है।
वहीं, दूसरे पक्ष के जयभयु ने आरोप लगाया है कि बुधवार शाम जाते समय चला शॉपर्स गेट के पास स्कूटी का पेट्रोल खत्म हो गया। इस दौरान वहां प्रशांत और दो अन्य वहां पहुंच गए तथा उस पर बेवजह घूरने का आरोप लगाकर पिटाई कर दी। इसके बाद उसके मित्र हरिया अस्पताल लेकर आए और उपचार करवाया। टाउन पुलिस शिकायत लेकर आगे की छानबीन कर रही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned