RAPE: बारह साल की बच्ची को गर्भवती बनाने के मामले में आया नया मोड़!

RAPE: बारह साल की बच्ची को गर्भवती बनाने के मामले में आया नया मोड़!
RAPE: बारह साल की बच्ची को गर्भवती बनाने के मामले में आया नया मोड़!

Dinesh M.Trivedi | Updated: 17 Sep 2019, 10:35:27 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

SURAT NEWS:
- दो जनों ने किया था दो साल तक यौन शोषण, एक और मामला दर्ज किया, दोनों आरोपी गिरफ्तार

सूरत. बारह साल की बालिका से बलात्कार कर उसे गर्भवती बनाने के मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश और बिहार से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि डेढ़ साल के दौरान दोनों ने किशोरी का यौन शोषण किया।
मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की महिला पुलिस उप निरीक्षक ए.के.चौहाण ने बताया कि किशोरी ने पहले पुलिस को गलत जानकारी दी थी। पिछली ७ सितम्बर को जब किशोरी के गर्भवती होने का मामला सामने आया था तो उसने बताया था कि केले का ठेला लगाने वाले युवक ने करीब आठ महीने पहले उसके साथ बलात्कार किया था। उसकी निशानदेही पर केले का ठेला लगाने वाली जगह पर पूछताछ की गई तो पता चला कि वहां जो युवक केले और सब्जी का ठेला लगाता था, वह उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के पवई थाना क्षेत्र के बदलपुर गांव का मूल निवासी है। वह करीब डेढ़ साल पहले ही सूरत छोड़ कर गांव चला गया था। चूंकि किशोरी का गर्भ करीब सात महीने का था, इसलिए उससे दुबारा पूछताछ की गई। इस बार उसने बताया कि केले वाले ने भी डेढ़-दो साल पहले उसके साथ बलात्कार किया था। उसके बाद करीब आठ महीने पहले गोडादरा जलारामनगर में रहने वाले रमेश उर्फ केसरीलाल (38) ने बलात्कार किया। वह मिठाई का लालच देकर उसे गन्ने के खेत में ले गया था। पुलिस ने बिहार के आरा जिले के केवटिया गांव के रमेश को गिरफ्तार कर लिया है। केले की लारी चलाने युवक के खिलाफ सोमवार रात लिम्बायत थाने में अलग से मामला दर्ज किया गया। उत्तर प्रदेश गई पुलिस टीम ने उसे भी हिरासत में ले लिया है। हालांकि उसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।


रमेश ने दी थी धमकी
पुलिस के मुताबिक रमेश की मैकेनिक की दुकान है तथा वह टेंट का सामान किराए पर देता है। वह शादीशुदा है तथा उसके बच्चे भी है। जिस वक्त उसने बलात्कार किया, उसकी पत्नी और बच्चे गांव में थे। किशोरी के गर्भवती होने पर रमेश ने उसे धमकी दी थी कि वह किसी के सामने उसका नाम नहीं लेगी। जब किशोरी के परिवार को पता चला तो रमेश ने ही उसे केले वाले का नाम लेने के लिए कहा था। इसलिए किशोरी ने पहले पुलिस को केले वाले के बारे में बताया था।


तोहफों का लालच
पुलिस ने बताया कि दो साल पहले केले वाला और उसके बाद रमेश किशोरी को मिठाई, श्रृंगार का सामान का लालच देते थे। वह उसे बहला-फुसला कर सुनसान जगह ले जाते थे और बलात्कार करते थे। वह उसे तोहफे भी देते थे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned