एनजीटी के तीखे तेवर- दस दिन के भीतर जमा कराने होंगे 25 करोड़

यशस्वी केमिकल कंपनी में ब्लास्ट का मामला- मृतकों को 15 लाख, गंभीर घायलों को पांच और घायलों को ढाई लाख रुपया देने का आदेश

By: विनीत शर्मा

Published: 11 Jun 2020, 08:19 PM IST

भरुच. दहेज सेज एक में स्थित यशस्वी केमिकल कंपनी में हुए ब्लास्ट मामले में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने यशस्वी कंपनी को दस दिन के भीतर कलक्टर के पास 25 करोड़ रुपया जमा कराने का आदेश दिया है। पूरे मामले की न्यायिक जांच के लिए कमेटी गठित करने के साथ ही मृतकों के परिजनों को 15 लाख, गंभीर घायलों को पांच लाख और घायलों को ढाई लाख रुपए चुकाने के आदेश दिए हैं।

दहेज में तीन जून को यशस्वी रसायन कंपनी के स्टोरेज टैंक में धमाके के साथ आग लग जाने से कंपनी के नौ कर्मचारियों के साथ ही बगल में स्थित थर्मोस कंपनी के कर्मचारी की मौत हो गई थी। 73 कर्मचारियों को घायलावस्था में इलाज के लिए भरुच के निजी अस्पतालों में दाखिल कराया गया था। ब्लास्ट के कारण आसपास के गांवों में लोगों के घरों को भी नुकसान हुआ था। ब्लास्ट के बाद जहरीला केमिकल पूरे दहेज इलाके में पसर गया था। इस कारण जल, वायु और जमीन पर प्रदूषण भी बढ़ गया था।

इस मामले में भरुच जिला मछुआरा समाज के प्रमुख कमलेश मढ़ीवाला ने केंद्र व राज्य सरकार में शिकायत की थी। आर्यव्रत फाउंडेशन के साथ मिलकर उन्होंने नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल में भी दावा दाखिल किया गया था। मछुआरा समाज के दावे को मंजूर करते हुए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने कंपनी को दस दिन के भीतर कलक्टर के पास 25 करोड़ रुपये जमा कराने का आदेश दिया है। हादसे में मृत हुए कर्मचारियों के परिजनों को 15 लाख, गंभीर रूप से घायलों को पांच लाख व सामान्य घायलों को ढाई लाख रुपया मुआवजा देने के लिए कहा है। पूरे मामले की न्यायिक जांच के लिए सेवानिवृत्त न्यायाधीश बी.एस. पटेल की अध्यक्षता में जांच समिति भी गठित की है।

एक माह में रिपोर्ट देगी कमेटी

एनजीटी की ओर से गठित जांच कमेटी एक माह के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी। सेवानिवृत्त जज बी.सी. पटेल की अध्यक्षता में गठित कमेटी में वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के सदस्य, सीपीसीबी के सदस्य, आईआईटी गांधीनगर के केमिकल इंजीनियरिंग के हेड ऑफ डिपार्टमेंट, निरी नागपुर के सदस्य, नेशनल इंन्स्टीट्यूट ऑफ डिजास्टर मैनेजमेंट के सदस्य शामिल हंै। कमेटी के सदस्य नौ दिन में स्थल का दौरा करेंगे।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned