मुखबिर पर छेड़छाड़ के बाद अब रंगदारी का मामला दर्ज

महिला बूटलेगर ने की थी पिटाई, वायरल हुआ था वीडियो

By: Sandip Kumar N Pateel

Published: 15 Nov 2018, 07:57 PM IST

सूरत. लिंबायत में महिला बूटलेगर की पुलिस के मुखबिर की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद महिला बूटलेगर ने पहले छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज कराई था। अब उसने रंगदारी की शिकायत दर्ज करवाई है।

 


पुलिस ने बताया कि महिला ने शिकायत में आरोप लगाया है कि एक साल पहले उसके पति की तबीयत खराब होने से वह चोरी-छिपे शराब का धंधा करती थी। उस दौरान अभियुक्त राजू एसएमएस उर्फ राजू सिगरेट ने मीडिया और पुलिस को जानकारी देने की धमकी देकर उससे तीन बार 2-2 हजार रुपए की रंगदारी वसूली। इससे परेशान होकर उसने शराब बेचना बंद कर दिया। इसके बावजूद राजू एसएमएस उसे धमकी देकर रंगदारी की मांग कर रहा था। 12 नवम्बर की सुबह वह दोबारा आया और रुपए की मांग करने लगा। रुपए देने से इनकार करने पर उसने अभद्र बर्ताव किया और जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गया। गौरतलब है महिला बूटलेगर का राजू एसएमएमस की पिटाई करता वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उसने पहले छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज करवाई थी। अब रंगदारी मांगने का आरोप लगाते हुए उसने दूसरी शिकायत की है, जबकि राजू एसएमएस की ओर से कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है।

 

जी-मेल और यू ट्यूब अकाउंट हैक कर चपत लगाने वाला पकड़ा गया

 



सूरत. लोगों के जी-मेल और यू ट्यूब अकाउंट हैक कर चपत लगाने वाले अभियुक्त को सूरत शहर की साइबर क्राइम सेल ने वड़ोदरा से धर दबोचा। पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू कर दी है।

 


पुलिस के मुताबिक अठवा थाने में अबरार साबिर शेख ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि उसका जी-मेल और यू ट्यूब अकाउंट किसी ने हैक कर लिया है और उसे यू ट्यूब चैनल तथा प्ले स्टोर से होने वाली आय मिलनी बंद हो गई है। पुलिस ने आइटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच साइबर क्राइम सेल को सौंपी थी। साइबर क्राइम सेल ने अभियुक्त को ढूंढ निकाला और अकाउंट हैक कर चपत लगाने के आरोप में वड़ोदरा की गुणातीत धाम सोसायटी निवासी भौदीपगिरी दिलीपगिरी गोस्वामी को धर दबोचा। पूछताछ के दौरान उसने कबूल किया कि उसने अबरार का जी-मेल और यू ट्यूब अकाउंट हैक कर उसे मिलने वाली आय के 1.42 लाख रुपए अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर लिए थे।

 


ऐसे लगाता था चपत

 


पुलिस ने बताया कि अभियुक्त आइटी का छात्र है। वह यू टयूब से अकाउंट धारकों का मोबाइल नंबर हासिल करता था और उन्हें वॉट्सएप पर स्पॉन्सरशिप का ऑफर देकर उनका बैंक अकाउंट नंबर हासिल कर लेता था। इसके बाद जी-मेल यूजर्स के अकाउंट को हैक कर बैंक अकाउंट नंबर बदलकर अपना अकाउंट नंबर डाल देता था, जिससे यू ट्यूब चैनल और प्ले स्टोर से मिलने वाली राशि सीधे उसके अकाउंट में जमा होती थी। पुलिस ने बताया कि उसने इस तरह अलग-अलग राज्यों के लोगों के जी-मेल और यू ट्यूब अकाउंट हैक कर चपत लगाई है। पुलिस आगे जांच कर रही है।



Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned