दो डमी गन के साथ एनआरआई युवक का कलक्ट्रेट में हंगामा

Mukesh Sharma

Publish: Oct, 12 2017 10:25:21 (IST)

Surat, Gujarat, India
दो डमी गन के साथ एनआरआई युवक का कलक्ट्रेट में हंगामा

आत्मरक्षा के लिए इस्तेमाल की जाने वाला गैर लाइसेंसी डमी गन लेकर कलक्ट्रेट में घुसे एक एनआरआई युवक ने मंगलवार को जमकर हंगामा मचाया। उसने सरकार और शहर क

सूरत।आत्मरक्षा के लिए इस्तेमाल की जाने वाला गैर लाइसेंसी डमी गन लेकर कलक्ट्रेट में घुसे एक एनआरआई युवक ने मंगलवार को जमकर हंगामा मचाया। उसने सरकार और शहर के कुछ नामी बिल्डरों तथा उद्योगपतियों के खिलाफ बयानबाजी की। बाद में उमरा पुलिस उसे थाने ले गई।

उमरा थाना प्रभारी जी.ए.सरवैैया ने युवक की पहचान सुमूल डेयरी रोड निवासी हिरल पाटीदार (२८) के रूप में दी है। उनका कहना है कि हिरल संयुक्त राज्य अमरीका का नागरिक है तथा वहां किसी कंपनी में नौकरी करता है। फिलहाल उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही है।

उसके पास जो दो गन बरामद हुई हैं, वह डमी हैं, जिनके लिए लाइसेंस जरूरी नहीं होता। वह सुबह करीब ग्यारह बजे कलक्टर कार्यालय के परिसर में पहुंचा और गन निकालकर सरकार, कुछ बिल्डरों तथा उद्योगपतियों के खिलाफ ऊटपटांग बयानबाजी कर हंगामा मचाना शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर उसे हिरासत में लेकर थाने लाया गया। पूछताछ के बाद उसे रिहा कर दिया गया।

मारपीट के मामले में तीन को कैद

पड़ोसियों से मारपीट के मामले में आरोपित तीन भाइयों को मंगलवार को कोर्ट ने दोषी करार देते हुए तीनों को तीन-तीन महीने की कैद और पांच सौ-पांच सौ रुपए जुर्माने की सजा
सुना दी।

महिधरपुरा क्षेत्र निवासी जगदीश मणिलाल राणा ने 25 जनवरी, 2015 को पड़ोस में रहने वाले तीन भाइयों हेमंत राणा, बाबू राणा और राजू राणा के खिलाफ मारपीट और जान से मारने की धमकी देने की शिकायत दर्ज करवाई थी। आरोपों के मुताबिक तीनों भाई शराब बेचते थे। उनके यहां आने वाले शराबी नशे में धुत होकर आसपास ही शौच क्रिया करते थे या सो जाते थे। इसका विरोध करने पर तीनों ने जगदीश की पिटाई कर दी थी।

चार्जशीट पेश होने के बाद मामले की सुनवाई जेएमएफसी कोर्ट में चल रही थी। मंगलवार को अंतिम सुनवाई के बाद कोर्ट ने तीनों को दोषी माना और तीन-तीन महीने की कैद की सजा तथा अर्थदंड की सजा सुनाई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned