ओ माई गॉड.... चलती एसटी बस का टायर निकला, बाल-बाल बचे यात्री

नासिक से वलसाड आ रही रोडवेज बस में सवार थे 40 यात्री

Sunil Mishra

November, 1008:39 PM

Surat, Surat, Gujarat, India

वलसाड. नासिक से वलसाड आ रही एसटी बस का टायर निकल गया। उस दौरान बस चल रही है, हालांकि चालक की सूझबूझ के कारण बड़ा हादसा टल गया। इससे सभी ने राहत की सांस ली।
एसटी विभाग सलामत सवारी एसटी हमारी का दावा भले करे, लेकिन हकीकत यह है कि चलती बसों के टायर निकल जाते हैं। रविवार को भी नासिक से वलसाड आ रही जीजे 18 जेड 6324 नंबर बस का टायर अचानक निकल गया। सुबह में वलसाड आते समय बस के कपराडा तहसील में पहुंचने पर यह हादसा हुआ। इसके बाद बस हिचकोले लेने लगी तो उसमें बैठे 40 यात्रियों की सांसें अटक गई और चीख पुकार मच गई। हालांकि चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए स्टेयरिंग संभाली और आगे जाकर बस को साइड में उतार कर रोक दिया। इससे सभी यात्रियों की जान बच गई।

Must Read Related News;

टायर फटने से बस पलटी, 15 घायल, एक की मौत

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हादसे से मचा हड़कंप, नेपाल के नागरिक समेत एक दर्जन लोग घायल

क्रैश गार्ड की वजह से नहीं खुलता है एयरबैग, एक्सीडेंट में जा सकती है जान

ओ माई गॉड.... चलती एसटी बस का टायर निकला, बाल-बाल बचे यात्री

बस ढलान पर चल रही होती तो बड़ा हादसा हो सकता था

बताया गया कि बस ढलान या किसी घाट पर चल रही होती तो बड़ा हादसा हो सकता था। घटना के बाद लोग भी मौके पर जमा हो गए और यात्रियों को बाहर निकलने में सहायता की। घटना के बाद कई लोगों ने कहा कि राज्य सरकार एक तरफ ट्रैफिक नियम सख्त बनाकर हेलमेट, वाहन बीमा, सीट बेल्ट, पीयूसी की जांच कर लाखों रुपए का जुर्माना जनता से वसूल रही है। लेकिन सरकार के अधीन एसटी बसों का ही बीमा, सीट बेल्ट व पीयूसी का ठिकाना नहीं होता। उस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है, जिसके कारण एसटी बसें दुर्घटनाग्रस्त हो रही हैं और यात्रियों की जान पर खतरा रहता है।

Show More
Sunil Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned