सरकारी संदेशवाहक रादडिय़ा हार्दिक से मिले

आरक्षण की मांग को लेकर करीब दस महीने से गुजरात में चल रहे पाटीदार आरक्षण आंदोलन में नया मोड़ आ

By: मुकेश शर्मा

Published: 23 Feb 2016, 11:55 PM IST

सूरत।आरक्षण की मांग को लेकर करीब दस महीने से गुजरात में चल रहे पाटीदार आरक्षण आंदोलन में नया मोड़ आ सकता है। मंगलवार को राज्य सरकार के संदेशवाहक सांसद विठ्ठल रादडिय़ा ने लाजपोर सेंट्रल जेल में आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि हार्दिक और उनके बीच करीब 20 मिनट बातचीत हुई। उन्होंने इस मुद्दे पर जल्द समझौता होने का दावा किया।

पोरबंदर से सांसद विठ्ठल रादडिय़ा ने सोमवार को पाटीदार समाज की आरक्षण की मांग को सही ठहराते हुए कहा था कि हरियाणा में जाटों को आरक्षण मिल सकता है तो पाटीदार समाज को क्यों नहीं। मंगलवार दोपहर वह हार्दिक पटेल से मिलने लाजपोर सेंट्रल जेल पहुंचे। उनके साथ पाटीदार समाज के अग्रणी और पास के सदस्य भी थे। हार्दिक पटेल से 20 मिनट बात हुई। मुलाकात के बाद बाहर आए रादडिय़ा ने पत्रकारों को बताया कि मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के कहने पर वह हार्दिक पटेल से मिलने आए थे। हार्दिक से मुलाकात को उन्होंने सकारात्मक बताया और कहा कि आरक्षण की मांग समेत 36  मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने जल्द ही सरकार और पाटीदार आंदोलनकारियों के बीच समझौते का दावा किया।


गौरतलब है कि पाटीदार आरक्षण आंदोलन के दौरान हिंसा को लेकर समाज के कई युवक जेल में हैं। राजद्रोह के आरोप में हार्दिक पटेल भी चार महीने से जेल में है।

मांग को सही बताया

रादडिय़ा ने पाटीदार समाज की आरक्षण की मांग को सही बताया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में जाटों को आरक्षण मिल सकता है तो गुजरात में पाटीदार समाज भी आरक्षण का हकदार है। उसे आरक्षण मिलना चाहिए।
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned