म्यूकॉरमाइकोसिस से एक और वृद्धा की मौत, 96 पहुंचा मरीजों का आंकड़ा

- न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल में 10 नए मरीज भर्ती, चार मरीजों का सफल ऑपरेशन

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 17 May 2021, 10:55 PM IST

सूरत.

शहर में म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। न्यू सिविल अस्पताल में रविवार को एक वृद्धा की म्यूकॉरमाइकोसिस से मौत हो गई। वहीं न्यू सिविल और स्मीमेर 10 नए म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीज भर्ती हुए हैं। न्यू सिविल में चार मरीजों का सफल ऑपरेशन किया गया है। हाल में दोनों अस्पताल में म्यूकॉरमाइकोसिस के 96 मरीज भर्ती हैं। इनमें 23 मरीजों का सफल ऑपरेशन किया गया है। एम्फोटेरेसिन बी इंजेक्शन की आपूर्ति नहीं होने के कारण चिकित्सकों को मरीजों के इलाज में परेशानी हो रही है। म्यूकॉरमाइकोसिस से अब तक 17 मौतें हुई हैं।

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद सूरत में म्यूकॉरमाइकोकिस के मरीज बढ़ रहे है। रोजाना शहर के सरकारी और निजी अस्पताल में म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीज भर्ती हो रहे हंै। इन मरीजों को लेकर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का आलम यह है कि उनके पास इनका कोई डाटा उपलब्ध नहीं है। मनपा स्वास्थ्य अधिकारी म्यूकॉरमाइकोसिस बीमारी नोटिफाई डिजीज नहीं होने का बहाना बनाकर मामले से पल्ला झाड़ रहे हैं। जानकारों ने बताया कि म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीजों की संख्या बढऩे के बाद अब शहर के निजी अस्पतालों से म्यूकॉरमाइकोसिस का डाटा देने के लिए कहा जा रहा है। निजी अस्पताल भी इन निर्देशों का पालन नहीं कर रहे।

चिकित्सकों ने बताया कि न्यू सिविल अस्पताल में रविवार को म्यूकॉरमाइकोसिस की मरीज कमला पवार की मौत हो गई। उन्हें कुछ दिन पहले ही न्यू सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सरकारी और निजी अस्पताल में अब तक म्यूकॉरमाइकोसिस के 17 मरीजों की मौत हो चुकी है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग आंकड़े सार्वजनिक करने से कतरा रहा है। दूसरी तरफ न्यू सिविल में म्यूकॉरमाइकोसिस के नए पांच मरीज भर्ती हुए हैं। चार मरीजों का सफल ऑपरेशन किया गया है। इसके अलावा दो-तीन अन्य मरीजों का नेजल एन्डोस्कॉपी किया गया है। न्यू सिविल में भर्ती मरीजों की संख्या 66 हो गई है।

स्मीमेर अस्पताल में म्यूकॉरमाइकोसिस के पांच मरीज भर्ती हुए हैं। यहां रविवार को कोई सर्जरी नहीं हुई। स्मीमेर में म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीजों की संख्या बढकऱ 30 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग अधिकारिक तौर पर म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीजों की मौत का आंकड़ा नहीं बता रहा। मनपा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी फोन बंद करके म्यूकॉरमाइकोसिस की जानकारी देने से बचते दिखाई दे रहे हैं। शहर में रोजाना 20 से 25 नए मरीज भर्ती हो रहे हैं, लेकिन मनपा के पास म्यूकॉरमाइकोसिस मरीजों का कोई रिकार्ड नहीं है। गौरतलब है कि, म्यूकॉरमाइकोसिस के मरीजों के लिए एम्फोटेरेसिन बी इंजेक्शन की कमी हो रही है। अस्पताल के अधिकारी एम्फोटेरेसिन बी इंजेक्शन स्टॉक कब मिलेगा यह भी नहीं बता पा रहे।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned