Surat/ चेक रिटर्न मामले में महिला को एक साल की कैद

फाइनेंस फर्म से लिए ऋण चुकाने के लिए दिया चेक रिटर्न हो गया था

By: Sandip Kumar N Pateel

Published: 14 Oct 2021, 10:28 PM IST

सूरत। चेक रिटर्न के एक मामले में आरोपित महिला को कोर्ट ने दोषी करार देते हुए एक साल की कैद की सजा सुनाई।

प्रकरण के अनुसार वराछा रोड गुलाबदास की चाल निवासी शीतल नीरज वसावा ने वर्ष 2019 में उधना की जे. एम. एम.फाइनेंस नाम की निजी फर्म से 1.95 लाख रुपए का ऋण दो महीने में चुकाने का भरोसा देकर लिया था। दो महीने बीतने के बाद उसने फर्म के नाम से चेक लिखकर दिया जो बैंक से रिटर्न हो गया था। फर्म की ओर से महिला को नोटिस भेजा गया, लेकिन उसने नोटिस का भी जवाब नहीं दिया। इसके बाद फर्म के संचालक योगेन्द्र सिंह जडेजा ने अधिवक्ता वाय.जे.भगत के जरिए आरोपित महिला शीतल के खिलाफ कोर्ट में चेक रिटर्न की शिकायत दायर की थी। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष आरोपों को साबित करने में सफल रहे। अंतिम सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपी शीतल वसावा को दोषी मानते हुए एक साल की कैद की सजा सुनाई और रिटर्न चेक की राशि चुकाने का आदेश दिया।

Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned