झुकी बिल्डिंग गिराने का आदेश

Binod Kumar Pandey

Publish: Jan, 13 2018 10:05:22 PM (IST) | Updated: Jan, 13 2018 10:05:23 PM (IST)

Surat, Gujarat, India
झुकी बिल्डिंग गिराने का आदेश

पुलिस नदारद, दमकल दस्ता देर से पहुंचा

सूरत. कोट क्षेत्र अंतर्गत बंदूगरा नाका गली में शनिवार को झुकी इमारत को मनपा प्रशासन ने गिराने का आदेश दिया है। ग्राउंड प्लस चार मंजिला बिल्डिंग एक साइड झुकने से इसके गिरने का खतरा पैदा हो गया है। बिल्डिंग के आसपास के पांच-छह मकानों को भी खाली कराना शुरू कर दिया गया है।
सेंट्रल जोन के पुराने और जर्जर मकानों से खतरे की कड़ी में शनिवार को एक और मकान जुड़ गया। करीब 35-40 साल पुरानी बिल्डिंग का हाल में रिनोवशन किया गया था। बताया गया कि बिल्डिंग के बगल के मकान का डिमोलिशन करने के बाद वहां नींव की खुदाई की जा रही थी। खुदाई की वजह से वार्ड नंबर छह के मकान संख्या 2717 मकान मालिक परेश कायस्थ की चार मंजिला बिल्डिंग एक ओर झुक गई और इसका एक हिस्सा अपने स्थान से करीब चार इंच तक हट गया। ग्रांउड फ्लोर की फ्लोरिंग क्षतिग्रस्त हो गई। इस बिल्डिंग में एक ही परिवार के कई सदस्य रहते हैं। बिल्डिंग के गिरने की आशंका से लोगों ने खुद ही इसे खाली करना शुरू कर दिया। प्रशासन को पता चला तो सेंट्रल जोन के कार्यपालक इंजीनियर भरत परमार भी अमले के साथ पहुंचे। मनपा अधिकारी भरत परमार ने बताया कि बिल्डिंग की देखकर इसे पूरी तरह से गिराने का आदेश दिया गया है। शनिवार रात इसके झुके हिस्से को लोहे का एंगल देकर सपोर्ट देने की प्रक्रिया शुरू की गई है, ताकि अचानक कोई हादसा नहीं हो। आसपास के पांच-छह मकानों को भी खाली करना शुरू कर दिया गया है।
पहले भी हुए हैं हादसे
सेंट्रल जोन में 40 से 50 साल पुराने मकानों की संख्या सैकड़ों में है। हर साल मानसून से पहले प्रशासन इन्हें नोटिस देकर अपना पल्ला झाड़ लेता है। बारिश होने के साथ हादसों का दौर भी शुरू हो जाता है। निवासियों का कहना है कि मकानों की रिपेयरिंग या गिराने के लिए मनपा की मंजूरी जरूरी होती है, लेकिन मकानों के पुश्तैनी होने की वजह और विवाद होने के कारण पुराने मकान हादसों का कारण बनते हैं।
----------------
पुलिस नदारद, दमकल दस्ता देर से पहुंचा
लाल दरवाजा के बंदुगरा नाका पर बगल में निर्माण कार्य के चलते झुकी चार मंजिला इमारत पर सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए गए थे। पुलिस व दमकल विभाग के कर्मचारी काफी देर तक मौके से नदारद रहे। मौके पर मौजूद मनपा के सुरक्षाकर्मियों ने गली के दोनों तरफ रास्ता तो बंद कर दिया था, लेकिन बिल्डिंग को कॉर्डन नहीं किया था। इस वजह से बिल्डिंग खाली करने वाले लोगों के साथ कई अन्य लोग भी बिल्डिंग के अंदर आ जा रहे थे। हालांकि बाद में दमकल दस्ते के लोग पहुंचे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned