दक्षिण गुजरात से अर्थव्यवस्था को आक्सीजन की तैयारी

बंधी राहत की उम्मीद- तापी में 20 अप्रैल से कुछ उद्योगों को मिल सकती है मंजूरी, लॉकडाउन के दौरान बीते २७ से बंद पड़े हैं उद्योग-धंधे

By: विनीत शर्मा

Published: 18 Apr 2020, 07:24 PM IST

बारडोली. कोरोना को लेकर देशभर में २५ मार्च से लॉकडाउन की स्थिति है। इससे उद्योग-धंधे भी बंद पड़े हैं। बीती 14 अप्रेल को प्रधानमंत्री ने इसे और 18 दिन बढ़ाने का ऐलान किया था। इस बीच 20 अप्रैल से तापी जिले में कुछ उद्योगों को खोले जाने की सुगबुगाहट तेज हुई है।

कोरोना के संक्रमण की मार आम आदमी के साथ ही उद्योग-धंधों पर भी पड़ी है। बीती 25 मार्च से केंद्र सरकार के देशभर में लॉकडाउन के ऐलान के बाद से सभी उद्योग-धंधे बंद पड़े हैं। इससे उत्पादन गिरने के साथ ही अर्थव्यवस्था पर भी बड़ी चोट पड़ी है। लॉकडाउन के पहले चरण की अवधि पूरी होने से पहले प्रधानमंत्री ने इसे और 18 दिन बढ़ाने का ऐलान किया था। उसी दौरान उन्होंने यह भी साफ किया था कि जिन क्षेत्रों में कोरोना नियंत्रण में आता दिखेगा, 20 अप्रेल से उन इलाकों में शर्तों के साथ रियायत दी जा सकती है। तापी जिले में आजतक कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है। इसके बाद यहां 20 अप्रेल से उद्योग-धंधों को छूट मिलने की उम्मीद बढ़ गई है।

इस बीच राज्य सरकार ने केंद्र की जारी गाइडलाइन के मुताबिक प्रदेश के कुछ हिस्सों में 20 अप्रेल से छूट देने की कवायद शुरू की है। इसके तहत राज्य में कुछ उद्योग और व्यवसाय को खोले जाने की तैयारियां शुरू की गई हंै। इसके तहत कलक्टर आरजे हालाणी ने शनिवार को व्यारा में एक उच्चस्तरीय बैठक कर चुनीदा उद्योग-धंधों को केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक खोले जाने की संभावनाओं पर चर्चा की। बैठक में जिले के आला अधिकारियों के साथ ही बड़े उद्यमी भी शामिल हुए और अपने विचार रखे। बैठक में कलक्टर ने साफ किया कि पूर्व में जिन उद्योगों को मंजूरी दी गई है, उनको नए सिरे से मंजूरी लेने की आवश्यकता नहीं है। उद्योगों को खोले जाने की मंजूरी के साथ ही उसमें काम कर रहे स्टाफ के लिए विशेष कार्ड जारी किए जाएंगे।

Show More
विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned