गोपी तालाब के पानी में तैरेंगे सौर ऊर्जा के पैनल

Mukesh Sharma

Publish: Feb, 15 2018 10:16:44 PM (IST)

Surat, Gujarat, India
गोपी तालाब के पानी में तैरेंगे सौर ऊर्जा के पैनल

केरल की तर्ज पर अब सूरत में भी पानी के ऊपर सोलर पैनल तैराने की तैयारी है। मनपा प्रशासन गोपी तालाब के कुंड में १०० केवी क्षमता के फ्लोटिंग...

सूरत।केरल की तर्ज पर अब सूरत में भी पानी के ऊपर सोलर पैनल तैराने की तैयारी है। मनपा प्रशासन गोपी तालाब के कुंड में १०० केवी क्षमता के फ्लोटिंग सोलर पैनल लगाएगा। पीपीपी मोड पर लगने वाले इन सोलर पैनल से अर्जित बिजली का इस्तेमाल गोपी तालाब के संचालन में ही होगा।

देश और प्रदेश की सोलर राजधानी के रूप में पहचान बना रहे सूरत में लोगों को पानी की सतह पर सोलर पैनल देखने को मिलेंगे। अब तक यह प्रयोग केरल में हुआ है, जहां इसे खासी सफलता मिली है। उससे प्रेरित होकर सूरत मनपा प्रशासन ने शहर में फ्लोटिंग सोलर पैनल लगाने का निर्णय किया है। १०० केवी क्षमता के इन पैनलों को लगाने के लिए मनपा प्रशासन पीपीपी मोड पर आगे बढ़ेगा। फ्लोटिंग पैनल से उत्पन्न बिजली से गोपी तालाब के बिजली खर्च को समायोजित किया जाएगा। गौरतलब है कि गोपी तालाब के संचालन का काम मनपा पहले ही पीपीपी मोड पर निजी एजेंसी को दे चुकी है।

बढ़ेगा पर्यटकों का आकर्षण

गोपी तालाब के सौंदर्यीकरण के बाद लोगों ने इसे पर्यटन स्थल के रूप में लिया है। बाहर से आने वाले लोग ही नहीं, शहरीजन भी तफरीह के लिए शाम बिताने गोपी तालाब आते हैं। हर साल मनपा प्रशासन यहां गोपी कार्निवल का आयोजन करता है, जिसमें तालाब की सजावट के साथ ही साहित्यक, सांस्कृतिक और नाट्य प्रस्तुतियों से लोगों को रू-ब-रू कराया जाता है। प्रशासन का मानना है कि गोपी तालाब में फ्लोटिंग पैनल लगाने से लोग इसके प्रति आकर्षित होंगे और यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।

रिन्युएबल एनर्जी पर फोकस


मनपा का पूरा फोकस इन दिनों वैकल्पिक ऊर्जा स्रोतों के दोहन पर है। सोलर शहरों में चुने जाने के बाद मनपा प्रशासन ने पूरे शहर को सोलर सिटी के रूप में देशभर में पहचान दिलाई है। इसकी शुरुआत मनपा की अपनी संपत्तियों से हुई। साइंस सेंटर में सोलर पैनल लगाए गए। इसके बाद शहरभर में मनपा मुख्यालय समेत जोन और अन्य मनपा दफ्तरों में भी सोलर पैनल लगे। इसे आमजन तक पहुंचाने के लिए मनपा प्रशासन ने पहल की और डॉमेस्टिक, स्कूल तथा अस्पताल सेक्टर में भी सोलर पैनल इंस्टॉल कराने शुरू किए। घरों में छतों पर, निजी स्कूलों और अस्पतालों में सोलर पैनल लगाए जा रहे हैं।

पानी से भी बिजली बनाने की कवायद

मनपा ने पानी से बिजली बनाने की कवायद भी शुरू की है। इसके लिए आंजणा सुएज ट्रीटमेंट प्लांट पर माइक्रो हाइड्रो पावर प्लांट लगाने की योजना है। प्लांट से ट्रीट होकर तीन मीटर नीचे खाड़ी में गिरने वाले पानी के दबाव से बिजली बनाई जाएगी। इस बिजली को भी गोपी तालाब की तरह ट्रीटमेंट प्लांट को संचालित करने में खर्च किया जाएगा। इसके अलावा मनपा बायो गैस और विंड पावर प्लांट से भी बिजली बना रही है, जिसका के्रडिट उसे मिल रहा है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned