PARV: ऋषि पंचमी मनाए, घर जाकर राखी बंधवाए

सप्त ऋर्षि मंडल की पूजा-अर्चना की गई वहीं, माहेश्वरी समाज ने रक्षाबंधन का पर्व मनाया और बहनों के घर जाकर रक्षासूत्र बंधवाए

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 23 Aug 2020, 09:13 PM IST

सूरत. गणेश चतुर्थी शनिवार को कोरोना महामारी के बीच घर-घर में हर्षोल्लास के माहौल में गणपति स्थापना के बाद रविवार को भाद्रपद शुक्ल पंचमी के मौके पर ऋषि पंचमी का पर्व मनाया गया। इस दौरान जहां सप्त ऋर्षि मंडल की पूजा-अर्चना की गई वहीं, माहेश्वरी समाज ने रक्षाबंधन का पर्व मनाया और बहनों के घर जाकर रक्षासूत्र बंधवाए।
माहेश्वरी समाज में भाद्रपद शुक्ल पंचमी को रक्षाबंधन का पर्व मनाने की पुरानी परम्परा है और इस मौके पर रविवार सुबह से ही शहर के परवत पाटिया, टीकमनगर, भटार रोड, घोड़दौडऱोड, उधना, गोडादरा, सिटीलाइट, वेसू, अलथाण समेत अन्य क्षेत्र में बसे समाज के लोगों ने घरों में बहनों से राखी बंधवाई। वहीं, इस अवसर पर कई समाज के कई लोग परिवार समेत शहर के ही दूसरे क्षेत्र में रहने वाली बहनों के घर जाकर भी राखी बंधवाए। तेज बारिश के बीच रविवार को सुबह से देर शाम तक समाज में रक्षाबंधन मनाने की प्रक्रिया चलती रही।

उधर, भाद्रपद शुक्ल पंचमी के अवसर पर मनाए जाने वाले ऋषि पंचमी का त्योहार भी रविवार को विधिविधान से मनाया गया। इस दौरान शहर के विभिन्न क्षेत्रों में तापी नदी के तट पर शिवालयों के पास महिलाओं ने सप्त ऋर्षि मंडल की विधिवत तरीके से पूजा-आराधना की। इस अवसर पर पितरदेव के पूजन, तर्पण आदि के आयोजन भी तापी नदी के विभिन्न घाटों पर किए गए।


डेढ़ दिन के गणपति को दी विदाई


सूरत. कोरोना महामारी के बीच रविवार को गणेश चतुर्थी के अवसर पर श्रद्धालुओं ने घरों में धूमधाम से विघ्नहर्ता-मंगलकर्ता गणपति की स्थापना की। ज्यादातर श्रद्धालुओं ने घरों में दस दिवस के लिए गणपति प्रतिमा की स्थापना की है वहीं, रविवार को डेढ़ दिन के गणपति को विदाई भी दी गई। इस संबंध में श्रद्धालुओं ने बताया कि कोरोना महामारी की वजह से कहीं पर भी गणपति महोत्सव के सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जा रहे है, ऐसी स्थिति में ज्यादातर श्रद्धालुओं ने घरों में गणपति की स्थापना दस दिन के लिए की है और वे रोजाना सुबह-शाम पूजा, आरती, भोग आदि के आयोजन घर में ही करेंगे और अनंत चतुर्दशी के दिन प्रतिमा का विसर्जन करेंगे। हालांकि कई श्रद्धालुओं ने घरों में ही डेढ़ दिन के लिए विराजमान किए गए गणपति को विदाई भी दी है।

PARV: ऋषि पंचमी मनाए, घर जाकर राखी बंधवाए
Show More
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned