ब्लू फ्लैग में शामिल होने के साथ जंपोर बीच के सौंदर्य चढ़ेगा परवान

सीआरजेड में समाहित जो सुरक्षित समुद्र तट है उन्हें ब्लू फ्लैग घोषित कर उस विस्तार में कई विकास कार्य की योजना बनाई

दमण. जंपोर बीच ब्लू फ्लैग घोषित होने के बाद अब दमण का यह समुद्र तट पर्यटकों के लिए और अधिक आकर्षण पैदा करेगा। यहां पर सैलानियों की सुविधाएं बढ़ाई जाएगी। ब्लू फ्लैग बीच के लिए पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने भी अनेक योजनाओं की स्वीकृति दी है, जिससे पर्यटन विकास को वेग मिलेगा।
कोस्टल रेग्युलेशन जोन (सीआरजेड) के कारण तटीय विस्तार का विकास करने में अनेक कठिनाई आती है। सीआरजेड में समाहित जो सुरक्षित समुद्र तट है उन्हें ब्लू फ्लैग घोषित कर उस विस्तार में कई विकास कार्य की योजना बनाई गई है। पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने एक राजपत्र में बताया कि सुरक्षा और संरक्षण तथा तटीय किनारों और समुद्र जल में प्रदुषण को नियंत्रित करने एवं उसे कम करने की दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय रूप से मान्यता प्राप्त ब्लू फ्लैग प्रमाणन के लिए समुद्र तट की पहचान करने का निश्चय किया है। समुद्र तट पर ब्लू फ्लैग प्रमाणन के प्रयोजन के लिए एचटीएल से न्यूनतम 10 मीटर की दूरी बनाए रखने के अधीन सीआरजेड से राहत देते हुए शौचालय ब्लॉक, चैंजिंग रुम, शॉवर पैनल, ग्रे वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सौर शक्ति प्लांट, समुद्र तट तक का रास्ता, तट पर बैठने की बेंच और सिटआउट छाते, आउटडोर खेल, स्वस्थता उपकरण, प्राथमिक चिकित्सा स्टेशन, वानस्पतिक अधिमानता, प्रवेशद्वार, पर्यटन सुविधा केन्द्र आदि विकास कार्य शामिल किए गए है। पर्यावरण मंत्रालय के इस आदेश के बाद ब्लू फ्लैग तट घोषित जंपोर बीच क पर्यटन विकास की अड़चनें खत्म होगी और पर्यटकों की सैरगाह बनेगा।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned