लोगों ने स्कूटर पर शराब तस्करी कर रहे बूटलेगर को पकड़ा

- चार बोरों में छिपा रखी थी देशी शराब

# वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने फल की लारी वाले समेत दो पर की कार्रवाई

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 09 Jun 2021, 10:25 AM IST

सूरत. शराबबंदी सिर्फ कागजों पर ही है। हकीकत में बूटलेगर व माफिया शहर में शराब की हेराफेरी उसी तरह से बेखौफ होकर करते हैं, जैसे आम व्यापारी अपना माल सामान लाते,ले-जाते हैं। मंगलवार को खटोदरा इलाके में लोगों ने एक ऐसे ही बूटलेगर को पकड़ा जो स्कूटर पर चार बड़े बड़े बोरों में देशी शराब की तस्करी कर रहा था।

लोगों से खबर मिलने पर खटोदरा पुलिस पहुंची और शराब व स्कूटर जब्त कर आरोपी युवक को थाने ले गई। युवक का नाम रणजीत बताया गया है। वह आभवा गांव से चार बोरों में शराब की खेप छिपा कर बेखौफ अपने ठिकाने पर ले जा रहा था। एक जागृत युवक की उस पर नजर पड़ी और उसने अन्य लोगों के साथ मिल कर उसे रोका। आश्चर्य की बात हैं कि आभवा गांव से खटोदरा तक स्कूटर पर अवैध रूप से बोरे लाद कर आए इस युवक को रास्ते में किसी पुलिस कर्मी नहीं रोका।

------------------------

वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने फल की लारी वाले समेत दो पर की कार्रवाई


सूरत. परवत पाटिया ब्रिज पर मनपा दस्ते के कर्मचारियों पर लारी वाले द्वारा हमला करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने पर पुणागाम पुलिस ने लारी वाले समेत दो जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की है। पुलिस के मुताबिक लिम्बायत संजयनगर निवासी अतिक अंसारी व शा ी चौक निवासी तालिफ राइन ने मनपा कर्मी राजेश यादव पर हमला किया था। गत चार जून को मनपा टीम ने अतिक की फलों लारी जब्त कर ली थी।

अतिक ने लारी छोडऩे के लिए कहा लेकिन राजेश ने दंड की राशि जमा करने पर ही लारी छोडऩे की बात की। बाद में अतिक व तालिफ ने मोटराइकिल से पीछा कर ब्रिज पर मनपा वाहन को रुकवाया और लारी नहीं छोडऩे पर राजेश समेत सभी को जान से मारने की धमकी दी। चाकू और पीवीसी पाइप से उन पर हमला किया। मनपाकर्मियों ने किसी तरह उन पर काबू पाया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था। बाद में राजेश ने घटना की लिखित शिकायत दी।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned