सूरत.

पेट्रोलियम पदार्थों की महंगाई के विरोध में कांग्रेस के भारत बंद का सूरत समेत दक्षिण गुजरात में मिला-जुला असर देखने को मिला। पाटीदार बहुल क्षेत्रों में बाजार बंद रहे तो अन्य क्षेत्रों में आम जनजीवन सामान्य रहा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के पहुंचने पर कुछ लोगों ने दुकानों के शटर आधे डाल दिए, लेकिन उनके निकलते ही शटर खुल गए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को ठप करने के लिए कुछ जगह बसों के टायरों की हवा निकाल दी तो कुछ जगह टायर जलाकर बंद को सफल दिखाने के प्रयास किए। पुलिस ने कई जगह कांग्रेस नेताओं को डिटेन किया और बाद में छोड़ दिया।

Ad Block is Banned