सूरत.

सूरत शहर के सबसे पुराने क्षेत्र भागल में देखने को मिलता है। यहां पर भवानी माता के मंदिर में बरसों से आम लोगों के बीच किन्नर और समलैंगिक भी माता की स्तुति के लिए नियमित आते हैं। गरबा रास करके माता भवानी से आशीर्वाद मांगते हैं। हाल में ट्रांसजेंडर्स और गै कम्यूनिटी के पक्ष में बड़े निर्णय आने के बाद से इनका आत्मविश्वास बढ़ा है और समाज भी इन्हें स्वीकारने लगा है।

Ad Block is Banned