सिलवासा.

शहर के अंबेडकर नगर में बसे गरीबों को पक्के घर उपलब्ध कराने के बाद झुग्गी-झोपडिय़ां नहीं हटी हैं। नगर परिषद ने यहां के 300 से अधिक गरीब परिवारों को पक्के घरों में बसाया है, लेकिन सड़क किनारे स्लम बस्ती व झुग्गी झोपडिय़ां अभी तक बरकरार हैं। सिलवासा नगर परिषद ने अंबेडकर नगर में बेघरों को घर देने के उद्देश्य से चार इमारतें बनाई हैं। इन भवनों मेें आसपास के स्लम बस्तियों में रहने वाले परिवारों को सस्ते भावों में फ्लैट मुहैया कराए हैं। जिन लाभार्थियों को को फ्लैट मिले हैं, उसमें कुछ लाभार्थी पुरानी झुग्गी झोपडिय़ां खाली करने को तैयार नहीं हैं। कइयों ने अपनी झोपडिय़ां दूसरे को बेच दी हैं। कुछ लोगों ने अपने रिश्तेदारों को उसी पुरानी झुग्गी-झोपड़ी में बसा दिया है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned