फर्जी दस्तावेज बना कर फ्लैट गिरवी रखा और लोन ले लिया


- अडाजण थाने में आठ जनों के खिलाफ मामला दर्ज
Case filed against eight people in Adajan police station

By: Dinesh M Trivedi

Published: 02 Aug 2020, 10:14 AM IST


सूरत. अडाजण में स्थित एक फ्लैट के फर्जी दस्तावेज बना कर उस पर लोन लेने के आरोप में पुलिस ने दो नोटरी वकीलों समेत आठ जनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
पुलिस के मुताबिक अडाजण नक्षत्र सोलीटर निवासी मिलाप धकाण, गोपीपुरा निवासी प्रतिक ठक्कर, विक्की ठक्कर, सोमिल, जहांगीरपुरा निवासी जिग्नेश जरीवाला, अडाजण निवासी नीरव लोढिया, नोटरी किन्नरी लेखडिया, नोटरी महेन्द्र भगत ने मिलकर जहांगीरपुरा देव आशिष सोसायटी निवासी कौशिक विनोदराय देसाई के साथ धोखाधड़ी की।

उन्होंने अडाजण वीरविला अपार्टमेंट स्थित कौशिक की पत्नी शीतल की मालिकी का फ्लैट नम्बर बी/३०२ हथियाने की साजिश रची और उसे अंजाम दिया। नियोजित साजिश के तहत उन्होंने जनवरी 2019 में उन्होंने शीतल के नाम से फर्जी बिक्री करार बनाया।

उस पर फर्जी हस्ताक्षर और अंगुठे आदि के निशान लगा कर नोटरी करवाई और फर्जी पॉवर ऑफ अटर्नी बनवाई। सोमिल ने पीडि़त की फर्जी पहचान धारण कर 16 फरवरी 2019 को प्रतिक ठक्कर व विक्की ठक्कर के नाम फर्जी दस्तावेज बना कर दिया।

फर्जी होने के बावजूद उसका रजिस्ट्रेशन करवाया। अन्य आरोपियों ने इसमें उसका साथ दिया। उसके बाद प्रतिक व विक्की ने फ्लेट पर 25 लाख 70 हजार रुपए मॉर्गेज लोन ले लिया। इस बारे में पीडि़त को पता चलने पर उसने अडाजण थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned