विवाहिता के धारा 164 में बयान दर्ज करने की मांग

विवाहिता के धारा 164 में बयान दर्ज करने की मांग

Dinesh M Trivedi | Publish: Sep, 12 2018 01:27:25 PM (IST) Surat, Gujarat, India

चैकअप के दौरान बलात्कार का मामला

सूरत. चैकअप के दौरान विवाहिता से बलात्कार के मामले में पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत कोर्ट में बयान दर्ज करने को लेकर कार्रवाई शुरू की है। मंगलवार को पुलिस ने चीफ कोर्ट में याचिका दायर कर इसकी मांग की। चीफ कोर्ट ने याचिका महिला न्यायाधीश की कोर्ट में ट्रांसफर कर दी है।


नानपुरा की मी एंड मम्मी अस्पताल के संचालक डॉ. प्रफुल्ल दोषी पर कतारगाम की विवाहिता ने बलात्कार का आरोप लगाते हुए अठवा थाने में शिकायत दर्ज करवाई है। डॉ.दोषी गिरफ्तारी के बाद दो दिन के पुलिस रिमांड पर है। मंगलवार को जांच अधिकारी की ओर से चीफ कोर्ट में याचिका दायर कर विवाहिता का सीआरपीसी की धारा 164 के तहत कोर्ट के समक्ष बयान दर्ज करने की मांग की गई।

गौरतलब है कि पुलिस की ओर से अभियुक्त का मेडिकल और पोटेंसी टेस्ट करवाया गया है। सबूत इकठ्ठे किए जा रहे हैं। विवाहिता का धारा 164 के तहत कोर्ट के समक्ष बयान दर्ज करने से अभियुक्त के खिलाफ केस मजबूत होगा।

पुलिस की धौंस जमा कर छीनते थे मोबाइल-रुपए

आम लोगों पर पुलिस की धौंस जमा कर जबरन मोबाइल और रुपए छीनने वाले एक युवक को खटोदरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसका साथी फरार है। पुलिस के मुताबिक पांडेसरा पीयुष प्वॉइंट की सीतानगर सोसायटी निवासी प्रकाश सिंह (24) कुछ समय से अपने साथी सूरज के साथ सक्रिय था।

दोनों चौराहे पर खड़े हो जाते थे तथा वाहन चालकों को रोक कर पुलिस केस में फंसाने की धमकी देते थे। फिर उनसे जबरन मोबाइल फोन और रुपए ले लेते थे। बिहार के आरा जिले के ननौर गांव के मूल निवासी प्रकाश के बारे में मुखबिर से सूचना मिलने पर मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके कब्जे से दो मोबाइल फोन और एक मोटर साइकिल बरामद हुई है।

प्राथमिक पूछताछ में उसने दो दिन पहले अपने साथी सूरज के साथ खरवरनगर सर्किल पर दो युवकों को डरा-धमका कर उनसे मोबाइल लेना कबूल किया है। बरामद मोटर साइकिल भी कुछ समय पहले चुराई गई थी।

Ad Block is Banned