old currency note : पुरानी नोटों के साथ पकड़े गए फैजल बारे में पुलिस ने ईडी को दी जानकारी


- एटीएस और एसओजी के छापे का फॉलोअप

Police informed ED about Faizal caught with old currency notes in surat
- ATS and SOG raid followup in ranitalav surat

By: Dinesh M Trivedi

Published: 22 Jun 2020, 10:08 PM IST


सूरत. सोशल मीडिया में वायरल वीडियो के आधार पर छापे के बाद राणी तलाव इलाके से बरामद हुई 51 हजार 500 रुपए की पुरानी नोटों के बारे में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप पुलिस ने ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) को सूचना दे दी है। साथ ही इस संबंध में राणीतलाव इलाके के भारबंद वाड निवासी आरोपी फैजल मोहम्मद चांदीवाला (26) के खिलाफ कोर्ट केस करने की कवायद शुरूकर दी है।

READ MORE : SHOCKING : SOCIAL MEDIA पर नोटों के बंडलों के साथ VIDEOS बनाना पड़ा मंहगा !

गौरतलब है कि एटीएस को फैजल के यहां जाली नोट होने की सूचना मिली थी। जिसके आधार पर एटीएस ने एसओजी के साथ मिल कर छापा मारा था।तलाशी में जाली नोट तो नहीं मिली लेकिन बंद हो चुकी एक हजार और पांच सौ रुपए दर की 80 नोट मिली थी।

इसके अलावा नोटों के आकार में कटी गत्ते व कागज की 68 गड्डियां तथा 13 बॉक्स बरामद हुए थे। पूछताछ में फैजल ने सोशल मीडिया पर वीडियो बनाने के लिए उनका उपयोग करने की बात कबूल की थी। लेकिन पुलिस को इन बंद हो चुके पुराने नोटों और कागज की गड्डियों का कोई और इस्तेमाल होने की आशंका है। जिसके चलते उससे पूछताछ जारी है।

old currency note : पुरानी नोटों के साथ पकड़े गए फैजल बारे में पुलिस ने ईडी को दी जानकारी

पुराने नोट बदलने का धंधा होने की चर्चा

चर्चा है कि फैजल व उसके साथी कमीशन पर पुराने नोट बदलने का काम करता है। जिन लोगों के आरबीआई में संपर्क है। उन्हें 50 लाख के नए नोट के बदले एक करोड़ के पुराने नोट देते है। वे पुराने नोट बदलने के नाम पर कई लोगों के साथ ठगी भी कर चुके है। वह नए पुराने नोटों के ढेर के वीडियो दिखा कर लोगों को अपने जाल में फांसते है। चर्चा यह भी है कि एसओजी के पहुंचने में देरी होने के कारण फैजल और उसके साथियों को छापे की भनक लग गई थी। इसलिए उन्होंने सब ठिकाने लगा दिया था।

फैजल के ससुर के पास मिले थे 70 लाख के पुराने नोट

फैजल का ससुर जुबैर चौकसी के कब्जे से पिछले साल नवसारी पुलिस ने करीब 70 लाख रुपए की बंद हो चुकी पांच सौ व एक हजार रुपए की दर की नोट बरामद की थी। हालांकि उस मामले में फैजल की लिप्तता सामने नहीं आई थी।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned