पुलिस कमिश्नर ने कैमरे लगाने का दिया सुझाव

पुलिस कमिश्नर ने कैमरे लगाने का दिया सुझाव

Pradeep Devmani Mishra | Publish: Oct, 13 2018 08:36:25 PM (IST) Surat, Gujarat, India

हीरा उद्यमियों के साथ पुलिस अधिकारियों की बैठक

सूरत

दिवाली अवकाश के दौरान सोसायटियों में होने वाली चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए सूरत डायमंड एसोसिएशन ने पुलिस अधिकारियों से बैठक कर पेट्रोलिंग बढ़ाने की मांग की। बैठक में पुलिस कमिश्नर ने कैमरे लगाने का सुझाव दिया।
सूरत डायमंड एसोसिएशन के हॉल में शनिवार को वराछा, महिधरपुरा, कतारगाम तथा कापोद्रा के उच्च पुलिस अधिकारियों की उपस्थिति में हुई बैठक में डायमंड एसोसिएशन के प्रमुख बाबू गुजराती ने कहा कि दिवाली अवकाश के दौरान हीरा उद्यमी और हीरा श्रमिक वतन चले जाते हैं ऐसे में कारखानों और घरों में चोरी की घटनाएं बढ़ जाती हैं। इसलिए ऐसे क्षेत्रों में पुलिस निगरानी बढ़ाई जाए। पुलिस अधिकारियों ने एसोसिएशन के पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वह ऐसे स्थानों पर कैमरे लगाएं और यदि कैमरे बंद हो तो उसे चालू करवाएं। इसके अलावा पुलिस की ओर से पेट्रोलिंग बढ़ाने का आश्वासन भी दिया।

21 दिनों का दीपावली अवकाश देने की मांग
नवरात्र का अवकाश नहीं देने वाले स्कूलों में अभी से ही पूर्ण दीपावली अवकाश की मांग होने लगी है। जिला शिक्षा अधिकारी के नोटिस के बाद शहर के कई संचालकों ने स्कूल में अवकाश की घोषणा की। एसएमएस भेजकर अभिभावकों को स्कूल शुरू होने की सूचना भी दी।
नवरात्र अवकाश को लेकर एक नया ही विवाद शहर के स्कूलों में शुरू हो गया है। शहर के 400 से अधिक स्कूलों ने सरकार के आदेश की अवहेलना की है। अवकाश की घोषणा होने के बावजूद स्कूल खुले रखे हैं। ऐसे स्कूलों के खिलाफ सरकार ने जिला शिक्षा अधिकारी को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय ने दो दिनों के बाद शहर के स्कूलों को नोटिस देकर स्कूल खुले क्यों रखे,उसका जवाब मांगा। स्कूलों ने नोटिस मिलते ही संचालकों ने अवकाश की घोषणा कर दी। फिर भी शहर के ज्यादातर निजी स्कूल अवकाश के दौरान खुले हुए हैं। अब इन स्कूलों में एक नया विवाद शुरू हो गया है। सरकार ने दीपावली अवकाश 21 दिनों से घटा कर 11 दिनों का कर दिया है। दीपावली की छुट्टियां नवरात्र अवकाश में जोड़ दी गई हैं। नवरात्र के दौरान जो स्कूल खुले हुए हैं, उनमें अभिभावक और विद्यार्थियों ने पूरे 21 दिनों का दीपावली अवकाश देने की मांग शुरू कर दी है। वहीं, जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय और सरकार की ओर से दीपावली का अवकाश 11 दिन का ही रहे, ऐसे प्रयास शुरू कर दिए हैं। नवरात्र में खुले स्कूलों के संचालकों ने अभिभावकों और विद्यार्थियों को 21 दिनों का अवकाश देने का आश्वासन देना शुरू किया है। दीपावली आने पर पता चलेगा कि निजी स्कूल कितने दिनों का अवकाश रखता है।

Ad Block is Banned