पुलिसकर्मी पर बलात्कार का आरोप

आरोपी की पत्नी ने शिकायतकर्ता पर लगाया एट्रोसिटी का आरोप

By: विनीत शर्मा

Published: 15 Jun 2021, 07:23 PM IST

बारडोली. सूरत जिला की पलसाणा पुलिस थाने में कार्यरत पुलिस कांस्टेबल ने गत अप्रैल 2020 में मास्क नहीं पहनने को लेकर मेमो देने की धमकी देकर महिला को कार में बैठाकर उसके साथ बलात्कार किया। आरोप है कि बाद में महिला के अश्लील फोटो फोन में खींचकर बार-बार बलात्कार किया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। उधर पुलिसकर्मी की पत्नी ने भी बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ बारडोली थाने में एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया है।

जानकारी के अनुसार अप्रेल 2020 में सूरत जिला की पलसाणा थाने में तैनात और फिलहाल सूरत के उमरपाड़ा थाने में नौकरी कर रहे पुलिस कांस्टेबल नरेश कपाडिय़ा के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। एक महिला की शिकायत के अनुसार गत 2020 अप्रैल के दौरान लोकडाउन में पलसाणा की एक सोसाइटी में रह रही महिला दूध लेने के लिए गई थी। उस वक्त महिला ने मास्क नहीं पहना था। वहां तैनात पुलिसकर्मी नरेश कपाडिय़ा ने महिला को रोककर जुर्माना भरने और पुलिस थाने जाने की बात कहकर जबरन कार में बैठा दिया। आरोप है कि आरोपी ने वहां से नवसारी रोड ले जाकर स्प्रे छिडक़ कर बेहोश करने के बाद महिला के साथ बलात्कार किया। इसके बाद महिला के अश्लील फोटो भी मोबाइल में खींचे और उसे सोसाइटी के गेट पर छोड़ दिया। इसके बाद से वह उन फोटो को दिखाकर महिला को ब्लेकमेल करने लगा। बार-बार बलात्कार के बाद गर्भवती हो जाने पर उसने महिला का गर्भपात भी करवा दिया था। इस मामले को लेकर महिला ने पलसाणा थाने में शिकायत दर्ज कारवाई है।

उधर पुलिसकर्मी नरेश कपाडिय़ा की पत्नी पार्वती ने भी महिला और उसके पति के खिलाफ एट्रोसिटी की शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में बताया गया कि यह महिला नरेश कपाडिय़ा पर प्रेम संबंध रखने के लिए दबाव डाल रही थी। मना करने पर जाति विषयक अपमान किया। आरोप है कि शिकायतकर्ता महिला ने पुलिसकर्मी के घर जाकर प्रेम संबंध नहीं रखने पर बलात्कार और छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराने की धमकी भी दी थी। इस आधार पर नरेश की पत्नी ने महिला और उसके पति के खिलाफ बारडोली थाने में शिकायत दर्ज कराई।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned