प्रदेश कांग्रेस प्रमुख मिले अभिभावकों से

स्कूल फीस के मामले को लेकर अनशन पर बैठे अभिभावकों को शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस प्रमुख अमित चावड़ा मिलने पहुंचे। अभिभावकों ने फीस के...

 

By: मुकेश शर्मा

Published: 25 Apr 2018, 10:21 PM IST

सूरत।स्कूल फीस के मामले को लेकर अनशन पर बैठे अभिभावकों को शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस प्रमुख अमित चावड़ा मिलने पहुंचे। अभिभावकों ने फीस के मामले को लेकर उन्हेंअपनी समस्या बताई।


शहर में पिछले लंबे अरसे से अभिभावक फीस के मामले को लेकर स्कूल संचालकों के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। जिला शिक्षा अधिकारी से लेकर शिक्षा मंत्री तक अभिभावकों ने ज्ञापन देकर शिकायत भी की है। यहां आयोजित एक कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री ने अभिभावकों को फीस कम करने का आश्वासन भी दिया था, लेकिन अभी तक यह वादा पूरा नहीं हुआ है। परेशान अभिभावक छह दिनों से अणुव्रत द्वार पर अनशन पर बैठे हैं। अनशन पर बैठे कई अभिभावकों की हालत खराब हो रही है। ऐसे में शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस प्रमुख अमित चावड़ा अभिभावकों से मिलने पहुंचे। अभिभावकों ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने अभिभावकों के आंदोलन को समर्थन दिया है।

तीनों अभियुक्तों का दो दिन का रिमांड मंजूर

बधाइयां वसूलने के विवाद को लेकर गुरुवार को पिंकी नाम की किन्नर की हत्या के आरोप में गिरफ्तार पायल कुंवर और मैथली कुंवर समेत तीनों अभियुक्तों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया।
कोर्ट ने तीनों को दो दिन के रिमांड पर पुलिस हिरासत में भेज दिया। खटोदरा क्षेत्र के जैनोन अपार्टमेंट में पिंकी कुंवर की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।

खटोदरा पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर गोड़ादरा निवासी पायल कुंवर, मैथली कुंवर और उनके साथी सतीष उर्फ सत्यो सुरेश घाड़घे को गिरफ्तार कर लिया था। 24 घंटे की पुलिस हिरासत खत्म होने पर शुक्रवार शाम तीनों को कोर्ट में पेश कर खटोदरा पुलिस ने पांच दिन का रिमांड मांगा। कोर्ट ने दो दिन का रिमांड मंजूर कर लिया।

गौरतलब है कि पायल कुंवर और पिंकी कुंवर के गुटों के बीच बधाइयां वसूलने को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। शुक्रवार को विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। पिंकी गुरुवार को खटोदरा के जैनोन अपार्टमेंट में बधाइयां वसूलने गई थी, तभी पायल कुंवर और उसके साथियों ने पिंकी पर चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी।

 

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned