scriptPROUD NEWS: Sisters of Surat reached the border to celebrate the festi | PROUD NEWS: त्योहार मनाने बॉर्डर पर पहुंची सूरत की बहनें | Patrika News

PROUD NEWS: त्योहार मनाने बॉर्डर पर पहुंची सूरत की बहनें

हिमालय की दुर्गम घाटियों में दिन-रात भारतीय सीमा की चौकसी में तैनात जवानों के बीच रक्षाबंधन का पर्व मनाने सूरत से पांच बहनें जम्मू-कश्मीर में सीमा पर स्थित उरी पहुंची और भारतीय सेना के जवानों को राखियां बांधी

सूरत

Published: August 22, 2021 08:46:32 pm

सूरत. हिमालय की दुर्गम घाटियों में दिन-रात भारतीय सीमा की चौकसी में तैनात जवानों के बीच रक्षाबंधन का पर्व मनाने सूरत से तीन बहनें जम्मू-कश्मीर में सीमा पर स्थित उरी पहुंची और भारतीय सेना के जवानों को राखियां बांधी है।
इस अनूठे कार्यक्रम की जानकारी में एक सोच फाउंडेशन की संस्थापक ऋतु राठी ने बताया कि रक्षाबंधन के अवसर पर सूरत में एक अभियान चलाकर 7 हजार राखियां दिव्यांग व विधवा महिलाओं से बनवाई गई थी। इन राखियों को लेकर संस्था की स्वीटी शाह, डॉ. मित्सु चावड़ा के अलावा अजय अजमेरा व धनजी राखोलिया के साथ वे शनिवार को श्रीनगर पहुंचे थे और रविवार को भारत-पाकिस्तान की सीमा पर उरी पहुंचे। यहां पर सेना मुख्यालय में भारतीय सेना के जवानों को राखियां बांधकर उन्हें रक्षाबंधन पर्व की बधाई दी गई। इस दौरान भारतीय सेना के कई जवान व अधिकारी मौजूद थे। इससे पूर्व संस्था की सदस्य महिलाओं ने गांधीनगर स्थित भारतीय सेना के मुख्यालय में जवानों के राखी बांध रक्षाबंधन पर्व मनाया था।

PROUD NEWS: त्योहार मनाने बॉर्डर पर पहुंची सूरत की बहनें
PROUD NEWS: त्योहार मनाने बॉर्डर पर पहुंची सूरत की बहनें

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

बिहार में बड़ा हादसा: गंडक नदी में डूबा ट्रैक्टर, हादसे में 2 लोगों की मौत, 20 लापताभारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायासानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, बोलीं-'मेरा शरीर खराब हो रहा है'UP Assembly Elections 2022 : अखिलेश यादव ने कहा सपा की सरकार बनी तो महिलाओं को देंगे 1500 रुपये प्रति महीने पेंशनDelhi: त्रिलोकपुरी मेट्रो स्टेशन के पास मिले दो संदिग्ध बैग, मौके पर पहुंचा बम निरोधक दस्ताAC कंपार्टमेंट में गैस लीक होने की वजह से हुआ था मुंबई में INS रणवीर में धमाकाभारत विरोधी कंटेंट चलाने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ होगा एक्शन- अनुराग ठाकुरइंजन ट्रॉयल जून तक होने की उम्मीद---श्रीगंगानगर क्षेत्र में 2023 तक इलेक्ट्रिक ट्रेन दौड़ाने का लक्ष्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.