बोनस की घोषणा के बाद रेल चक्काजाम आंदोलन वापस लिया

- रेलवे समेत केन्द्रीय कर्मचारियों को 78 दिन का बोनस

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 22 Oct 2020, 10:28 PM IST

सूरत.

रेलवे समेत केन्द्रीय कर्मचारियों के 78 दिन का बोनस देने की घोषणा बुधवार को हो गई है। इसके बाद कर्मचारियों में खुशी का माहौल है। वेस्टर्न रेलवे एम्पलॉइज यूनियन ने गुरुवार को रेल का जाम करने की घोषणा को वापस ले लिया है। यूनियन ने बताया कि रेलवे कर्मचारियों की अन्य मांगे वैसे ही बनी हुई है। उन्हें पूरी करवाने के लिए सरकार से बातचीत की जाएगी।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 2019-2020 के लिए 78 दिन के बोनस की घोषणा की है। इसका लाभ 30 लाख से ज्यादा कर्मचारी को होगा। वेस्टर्न रेलवे एम्पलोइज यूनियन, सूरत शाखा के अध्यक्ष संजय झा ने बताया कि 78 दिन के बोनस का घोषणा के बाद सूरत रेलवे स्टेशन पर कर्मचारियों ने मिठाई खिलाकर उत्सव मनाया। ऑल इंडिया रेलवे मेन्स फेडरेशन के आव्हान पर वेस्टर्न रेलवे एम्पलॉइज यूनियन ने सरकार को हड़ताल का अल्टिमेटम दिया था। बोनस की घोषणा के बाद कर्मचारियों में खुशी है।

रेलवे कर्मचारियों को 17,951 रु बोनस मिलेगा। मिठाई खिलाकर खुशी मनाई गई है। वेस्टर्न रेलवे एम्पलॉइज यूनियन ने नई पेंशन योजना को रद्द करने, ट्रैक मेंटेनर के लिए सीआरसी लागू करने, सभी रिक्त पदों को भरने, मंहगाई भत्ते को शुरू करने तथा भारतीय रेलवे का निजीकरण रोकने की मांग की है। यूनियन के सचिव अश्विन राणा समेत अन्य पदाधिकारी और रेलवे कर्मचारी मौजूद रहे।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned