RAIN NEWS: दमण-दानह में झम-झमा-झम-झम

शहरी जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त, बारिश व ज्वारभाटा एक साथ होने से निकासी के मार्ग हुए अवरुद्ध

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 18 Jul 2021, 06:19 PM IST

दमण. लम्बे इंतजार के बाद मेघराजा की सवारी दमण में रविवार को जोरदार तरीके से निकली। मूसलाधार बरसात होने से शहरी जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया और रास्तों पर जगह-जगह घुटने के ऊपर पानी जमा हो गया। मात्र दो घंटे में ही दस ईंच बरसात हो जाने से एवं समुद्र में ज्वारभाटा और बारिश का समय एक साथ होने से पानी निकासी के मार्ग अवरुद्ध रहे।
रविवार सुबह तेज बारिश की शुरुआत हुई और जगह-जगह जल जमाव हो गया व रास्ते बंद हो गए। शहर में मोटी दमण मार्केट के पास, नानी दमण के घांचीवाड विस्तार में घुटनों से ऊपर पानी जमा हो जाने से निचले विस्तार के घरों में पानी घुस गया। कॉलेज रोड पर पानी का जमा हो जाने से यातायात प्रभावित हुआ और दर्जनों दुपहिया वाहन रास्ते में ही बंद पड़ गए। वरकुंड के निकट वापी-दमण रोड पर भी पानी जमा हुआ जिसके कारण यातायात व्यवस्था पुलिस को वनवे में बदलनी पड़ी। कलेरिया जंक्शन पर घुटने तक पानी भर गया जिसके कारण एक रास्ता बंद हो गया। वहां आसपास की दुकानों में पानी घुसने से नुकसान के भी समाचार है। भीमपोर विस्तार में भी कई रास्ते बंद रहे और सोमनाथ विस्तार में बरसाती नाले के ओवरफ्लो होने से आसपास के क्षेत्र में पानी जमा हो गया।

प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची


दमण में सुबह दो घंटे में 10 इंच बारिश होने से सर्वत्र पानी जमा हो गया। सुबह आठ बजे उप कलक्टर चार्मी पारेख आपदा नियंत्रण की टीम के साथ मौके पर पहुंची। मोटी दमण मार्केट के पास गटर लाइन खोलकर पानी निकासी का रास्ता बनाया गया। कलेरिया डीमार्ट के निकट भी पानी से बंद हुए रास्ते को जेसीबी की मदद से डिवाइडर का एक हिस्सा तोड़कर जमा पानी को निकाला गया। डॉ. विवेककुमार व अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में प्रशासन की अलग-अलग टीमों ने शहर के विभिन्न क्षेत्र में जाकर जमा पानी के निकासी के रास्ते खोले।

व्यापार- उद्योग को हुआ नुकसान


रविवार सुबह अचानक तेज बारिश होने से शहर व आसपास के कई व्यापार व उद्योग परिसरों में पानी जमा हो गया और इससे वहां रखे माल-सामान को काफी नुकसान होने की जानकारी मिली है। सोमनाथ नाला के ओवरफ्लो होने से पानी आसपास स्थित छोटे-बड़े उद्योग परिसर में घुस गया। नाले के निकट स्थित प्रिंङ्क्षटग प्रेस ऑफिस में भी नुकसान के समाचार है।

RAIN NEWS: दमण-दानह में झम-झमा-झम-झम

कब्रिस्तान में भी तेज बारिश से नुकसान


भारी बारिश की वजह से रविवार को ईसाई समुदाय के कब्रिस्तान की दीवार टूट गई और पानी अंदर घुस गया। मोटी दमण में फुटबॉल मैदान के सामने आंबावाडी विस्तार में ईसाई समुदाय का कब्रिस्तान है। समुदाय के मृत व्यक्ति को ताबूत के साथ यहां दफन किया जाता है। यह कब्रिस्तान पुर्तगीज काल से बना हुआ है। रविवार सुबह तेज बारिश होने से कब्रिस्तान की दीवार टूट गई और कई कब्रों में पानी घुस गया और ताबूत तक बाहर आ गए। घटना की जानकारी मिलते ही नगरपालिका अध्यक्ष सोनल पटेल, उपकलक्टर (सामान्य) डॉ. विवेककुमार आदि मौके पर पहुंचे और बाद अग्निशमन दल को बुलाकर बिगड़ी हुई व्यवस्था को दुरुस्त करवाया गया।

RAIN NEWS: दमण-दानह में झम-झमा-झम-झम

दादरा नगर हवेली में भी झूमकर बरसे बादल


सिलवासा. जिले में लम्बे विराम के बाद बादल रविवार को जमकर बरसे। अलसुबह से दिनभर कभी हल्की, कभी झमाझम बारिश हुई। बीच-बीच में मूसलाधार बरसात होने से निचले स्थानों में जलभराव की परेशानी भी हुई है। नरोली-धपसा सड़क पर पानी बहने से कुछ देर के लिए संपर्क टूट गया।
सिलवासा व आसपास में बादल दिनभर बरसते रहे। बारिश से बाजारों में भीड़ गायब रही। बाढ़ नियंत्रण केन्द्र के अनुसार पिछले 24 घंटों में 107 मिमी बारिश हुई। नासिक त्र्यंबकेश्वर में बारिश से मधुबन डेम में पानी का इनफ्लो बढ़कर 11 हजार क्यूसेक से अधिक हो गया है। बहरहाल डेम का जलस्तर 69 मीटर के आसपास चल रहा है। भारी बारिश के चलते भिलाड़-नरोली के बीच कई जगह जलजमाव की स्थिति बन गई। नरोली-धपसा के पास कुछ देर के लिए सड़क पानी में डूब गई। दमणगंगा नदी के आसपास वाले इलाकों में दूर तक पानी भर गया है। मसाट, कराड़ और पिपरिया के किनारे नदी में दो मीटर तक जलस्तर बढ़ा है। दूरवर्ती क्षेत्र खानवेल, आंबोली, मांदोनी, दूधनी में जमकर मेघ बरसे। खानवेल, आंबोली की साकरतोड़ नदी बहने लगी है।

RAIN NEWS: दमण-दानह में झम-झमा-झम-झम
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned